नौ साल पहले सड़क हादसा समझ बंद कर दी थी फाइल, गुप्त सूचना के आधार तफ्तीश में पता लगा हुआ था कत्ल



Murder Case Solved

लुधियाना – पुलिस ने नौ साल पहले हुए मर्डर मामले को सड़क हादसा समझकर केस की फाइल बंद कर दी। मगर गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने तफ्तीश शुरू की तो गुत्थी सुलझती गई। पुलिस ने दोनों आरोपियों को काबू कर उनसे पूछताछ की तो मामले का खुलासा हुआ। अब धारा-174 की कार्रवाई कर धारा-302 में बदल दी गई है। दोनों आरोपी रनधीर सिंह धीरा और सतनाम सिंह 2008 में शेरपुरा चौक में शराब का अहाता चलाते थे। शराब के नशे में ही दोनों ने वारदात की थी।

डीआईजी गुरशरण सिंह संधू और एसएसपी देहात सुरजीत सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि गांव सिंधवा कलां के जसकेवल सिंह की मुलाकात 21 दिसंबर 2008 में सिधवां कलां के गेट पर गांव के रनधीर धीरा और सतनाम सिंह से हुई। जसकेवल बुलेट मोटरसाइकिल पर था। दोनों आरोपी अपने मोटरसाइकिल पर जगराओं से घर जा रहे थे। रास्ते में जसकेवल की रनधीर सिंह से तकरार हो गई। इसके बाद रनधीर और सतनाम ने जसकेवल सिंह के सिर पर ईंट और पत्थर से हमला कर फरार हो गए। अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

आगे पढें पूरी खबर 





LEAVE A REPLY