मार्च में ही तपिश बढ़ी, प्यास बुझाने के लिए नारियल पानी का सहारा



march

यह है मलकपुर एरिया। शहर से 12 किलोमीटर दूर होने के कारण शायद यहां तपिश कम हो पर फिर भी दोपहर में बाहर निकलना मुश्किल होता जा रहा है। शहर से किसी काम से निकलीं इन लड़कियों को प्यास बुझाने के लिए नारियल पानी का सहारा लेना पड़ा। इनका कहना था कि लगता ही नहीं मार्च है, मई जैसा अहसास हो रहा है।





LEAVE A REPLY