मिड-डे मील का अकाऊंट माइनस में आ जाने से 409 बच्चों का मिड-डे मील हुआ बंद



लुधियाना– पंजाब सरकार के राज में फंडों के अभाव के चलते सरकारी स्कूलों में मिड-डे मील पर फिर से संकट के बादल छा गए हैं। हालात ये बन चुके हैं कि मिड-डे मील का अकाऊंट माइनस में जाने के चलते कई स्कूलों को फिलहाल इसे बंद करना पड़ रहा है। लुधियाना के जमालपुर फेज-1 में बने सरकारी प्राइमरी स्कूल सुखदेव नगर ने भी अकाऊंट 43,000 रुपए तक माइनस में जाने के चलते बुधवार को मिड-डे मील बंद कर दिया। स्कूल में कक्षा 1 से 5 तक के 409 विद्यार्थी पढ़ रहे हैं, जिनकी खाने वाली थालियां आज सरकार की नालायकी के चलते खाली रहीं। ताज्जुब की बात तो यह है कि स्कूल में मिड-डे मील बनाने का राशन तक भी खत्म हो चुका है। इस संबंधी सूचना स्कूल की ओर से महीने की अंतिम तारीख को भेजे जाने वाली रिपोर्ट में विभाग को भेज दी गई थी लेकिन राशन पूरा करने के लिए कोई पहलकदमी नहीं की गई।

जवद्दी स्कूल में भी बंद हुआ था मिड-डे मील

स्कूलों में मिड-डे मील के फंड पिछले 2 महीने से माइनस में चल रहे हैं, जिसके चलते पिछले महीने भी जवद्दी स्कूल ने 800 के करीब का मिड-डे मील बंद कर दिया था, क्योंकि स्कूल का अकाऊंट 1 लाख रुपए तक माइनस में पहुंच गया था। हालांकि सरकार ने पिछले महीने 20 दिनों के फंड मिड-डे मील के लिए जारी कर दिए थे जिसके बाद स्कूल ने पुन: इसे शुरू किया लेकिन सरकार से आया यह फंड पर्याप्त नहीं था।

अध्यापकों की जेबें हुईं खाली

बात अगर सुखदेव नगर के प्राइमरी स्कूल की करें तो यहां भी अध्यापकों ने अपनी जेब से पैसे खर्च करके मिड-डे मील चलाने के पूरे प्रयास जारी रखे लेकिन राशन खत्म होने से यहां स्थिति गंभीर हो गई। पिछले महीने भी 6 से लेकर 17 नवम्बर तक स्कूल का मिड-डे मील बंद रहा था। उस समय भी माइनस अकाऊंट 60 हजार तक पहुंच गया था लेकिन 20 दिनों के फंड के रूप में 27 हजार रुपए आने के बाद स्कूल ने फिर से के लिए मिड-डे मील शुरू कर दिया।

आगे पढ़े पूरी खबर





LEAVE A REPLY