पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन के मौके पर जाने कुछ खास बातें



देश के 10वें प्राइम मिनिस्टर रहे अटल बिहारी वाजपेयी इस क्रिसमस 93 साल के हो जाएंगे। उनके बर्थडे को स्पेशल बनाने के लिए यूपी सरकार ने 93 कैदियों को रिहा करने का फैसला किया है। अटल एक बेहतरीन राजनेता होने के साथ ही शानदार वक्ता भी रहे। उनके शब्द आज भी युवाओं के लिए इन्स्पिरेशन हैं।

बटेश्वर में डूबते-डूबते बचे थे अटल

– वैसे तो अटल बिहारी का जन्म 25 दिसंबर 1924 को मध्य प्रदेश के ग्वालियर में हुआ, लेकिन इनका पैतृक गांव यूपी का बटेश्वर है।
– इनके दादा पं. श्यामलाल आगरा के पास स्थित बटेश्वर गांव में रहते थे। वे एक ज्योतिषि थे और कथा वाचन का काम करते थे।
– अटल जी की दादी सुखदेवी उन्हें प्यार से ‘अटल्ला’ कहकर बुलाती थीं।
– बचपन में वे ग्वालियर से अपने ददिहाल बटेश्वर जाते थे। उन्हें यमुना में तैरना बहुत भाता था। एक बार वे डूबते-डूबते भी बचे थे।
– अटल जी के तीन बड़े भाई भी थे- अवध बिहारी, सदा बिहारी और प्रेम बिहारी। उनकी बहनों का नाम विमला, कमला और उर्मिला था।
– सभी भाई-बहन अपने पिता कृष्ण बिहारी वाजपेयी को ‘बापजी’ कहकर बुलाते थे। वे एक टीचर थे।

आगे पढें पूरी खबर 





LEAVE A REPLY