बहादुरके रोड पर बदमाशों ने लूट का विरोध करने पर फैक्टरी वर्कर की छाती पर चाकू से किया वार, वर्कर की हुई मौत


Murder

बहादुरके रोड पर रविवार शाम को लूट का विरोध करने पर मोटरसाइकिल सवार नकाबपोश बदमाशों ने एक फैक्टरी वर्कर के छाती में चाकू घोंप कर मौके से फरार हो गए। जख्मी हालत में 22 वर्षीय केशव राम को उसके साथियों ने इलाज के लिए सिविल अस्पताल पहुंचाया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वारदात को लेकर फैक्टरी वर्करों में दहशत और गुस्से का माहौल व्याप्त है। उधर, मामले की जानकारी मिलने पर थाना सलेम टाबरी प्रभारी इस्पैक्टर विजय शर्मा पुलिस पार्टी के साथ अस्पताल पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है। केशव मूलरूप से उत्तर प्रदेश के जिला मदारगढ़ के गांव ललिया का रहने वाला था और बहादुर के रोड पर एक हौजरी में काम करता था।

बदमाश से भिड़ गया वर्कर

मोटरसाइकिल से उतर एक बदमाश केशव के पास आया और चाकू दिखाकर उसे लूटने की कोशिश की। इस पर शोर मचाता हुआ केशव उससे भिड़ गया। खुद को पस्त होता देखकर बदमाश ने खुद को छुड़ाने के लिए उसकी छाती में चाकू घोंप दिया, जिससे वह वहीं ढेर हो गया। इस बीच महेश व जीतना भी वहां पहुंचे। उन्होंने बदमाशों को पकडऩे की कोशिश की तो वह बदमाश पैदल ही भाग निकला, जबकि उसका साथी मोटरसाइकिल पर पहले की निकल चुका था। जख्मी हालत में केशव को पहले नजदीक के रघुनाथ अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उसकी हालत को देखते हुए डाक्टर ने सिविल अस्पताल रैफर कर दिया और एम्बुलैंस भी मुहैया करवाई। जहां डाक्टरों ने कुछ देर बाद उसे मृत घोषित कर दिया। 5 बहन-भाइयों में केशव सबसे बड़ा था और उसके माता-पिता गांव में ही हैं। वह अकेला ही यहां रहता था। फैक्टरी वर्करों का कहना है कि हर रोज बदमाश किसी ने किसी वर्कर को अपना निशाना बनाते है, लेकिन पुलिस का रवैया बड़ा ही उदासहीन व गैर-जिम्मेदाराना वाला होता है।

फैक्टरी से छुट्टी होने के बाद साथियों के साथ पैदल जा रहा था घर

घटना कल शाम करीब 7.30 बजे की है, जबकि फैक्टरी से छुट्टी करने के बाद केशव अपने दोनों साथी महेश व जीतना के साथ मनमोहन स्थित अपने घर की तरफ जा रहे थे। तीनों एक ही किराए के कमरे में रहते हैं और एक ही फैक्टरी में काम करते है। केशव दोनों से करीब 40 कदम आगे थे। जब वह बहादुरके रोड पैट्रोल पंप के सामने वाली गली में पहुंचा तो मोटरसाइकिल पर 2 बदमाश आए, जिन्होंने काले रंग की जैकेटें पहनी हुई थीं और मुंह पर रूमाल बांध रखे थे।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY