अब रेल हादसों पर लगेगा ब्रेक – सीसीटीवी से होगी पहियों की निगेहबानी


रेलगाड़ियों के घूमते पहियों की निगेहबानी अब सीसीटीवी से हो रही है। इससे ट्रेनों के पहियों में आने वाली खराबी का समय रहते पता लग सकेगा। इससे हादसों की आशंका भी कम होगी। रेलवे ट्रैकों पर कैमरे लगने से रेलवे की सुरक्षा और दुरुस्त हो गई है।

रेलवे ट्रैक पर कैमरे लगाकर रेलवे ने एक तीर से दो निशाने साधे हैं। एक रेलकर्मियों की कमी से राहत पाई है और दूसरा कैमरों से चौबीसों घंटे निगरानी संभव हुई है। अब तक सभी मौसम में रेलकर्मियों से चौबीसों घंटे रेलगाड़ियों की निगरानी संभव नहीं हो पाती थी, लेकिन अब कैमरे लग जाने से यह संभव हो गया है। यही नहीं आधुनिक कैमरों से कंट्रोल रूम में बैठे कर्मियों को पहियों से आ रही किसी प्रकार की आवाज का भी पता चल जा रहा है, जिससे वह समय रहते उसे ठीक करवाने का अलर्ट जारी कर सकते हैं।

फिरोजपुर रेलमंडल के फिरोजपुर रेलवे स्टेशन से सीसीटीवी कैमरे लगाने की शुरुआत हो चुकी है। बाकी जगह काम चल रहा है। फिरोजपुर मंडल रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यात्री रेलगाड़ियों की अपेक्षा सबसे ज्यादा कमियां मालगाड़ियों के पहिए में आती हैं। इससे आए दिन डिरेलमेंट की घटनाएं सामने आती हैं। उन्होंने कहा कि सभी बड़े स्टेशनों पर यह कैमरे लगाए जा रहे हैं, ताकि वहां से गुजरने वाली सभी रेलगाड़ियों पर नजर रखी जा सके और रेल हादसों को रोका जाए। फिरोजपुर मंडल रेलवे के एडीआरएम एनके वर्मा ने कैमरे लगाए जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि यह कदम रेलगाड़ियों की सुरक्षा के लिए अहम साबित होगा।

  • 288
    Shares

LEAVE A REPLY