बहन ने करवाया था आशिक के साथ मिलकर अपने भाई पर कातिलाना हमला, चार गिरफतार


लुधियाना – लुधियाना पुलिस ने चुहड़पुर रोड निवासी मनप्रीत सिंह उर्फ मनी पर कातिलाना हमले के मामले मे बहन, उसके आशिक और दो अन्य आरोपियों को काबू किया है। आरोपियों से प्वाइंट 32 बोर की एक रिवाल्वर, एक देसी कट्टा व मोटरसाइकिल भी बरामद हुआ है। पुलिस कमिश्नर डॉ सुखचैन सिंह गिल ने बताया कि 10 जुलाई की रात को करीब 9:00 बजे चूहड़पुर रोड, थाना हैबोवाल के क्षेत्र में मनप्रीत पर मोटर साइकिल सवार दो अज्ञात आरोपियों ने गोलियां चलाकर हमला किया था। जांच के दौरान सामने आया कि मनप्रीत की बहन एनीप्रीत कौर ने अपने आशिक सतनाम सिंह के साथ मिलकर यह साजिश रची थी। एनीप्रीत का पति मर चुका है, जबकि सतनाम एनीप्रीत के पिता नवरंग सिंह जो कि एक धार्मिक स्थान के मुख्य सेवादार हैं, के पास चालक का काम करता है।

एनिप्रीत का एक बेटा है, जबकि सतनाम की एक बेटी है। उन्हें लगा कि मनप्रीत उनके रास्ते में आ रहा है और उसे मारने से उनके पिता की धार्मिक स्थान की सेवा व सम्पत्ति उन्हें मिल जाएगी। उन्होंने सतनाम के एक दोस्त जसवीर सिंह उर्फ जस्सी को अपने साथ लिया। आरोपियों ने सुखदेव सिंह से पॉइंट 32 बोर का लाइसेंसी रिवाल्वर हासिल किया और जश्नजोत सिंह नामक व्यक्ति से पल्सर मोटर साइकिल लिया। सतनाम और जसवीर ने मनप्रीत पर हमला किया था। उन्होंने बताया कि पुलिस ने शक के आधार पर एनीप्रीत को हिरासत में लिया। जिनसे मिली जानकारी के आधार पर सतनाम को फगवाड़ा से हिरासत में लिया गया। वारदात में प्रयोग किया गया रिवाल्वर और 7 जिंदा कारतूस बरामद किया गया। इसके बाद जसवीर सिंह और सुखदेव सिंह को काबू किया गया। पुलिस अब तक मामले में चार आरोपियों को काबू कर चुकी है। मामले की तफ्तीश जारी है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY