सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया CBI निदेशक आलोक वर्मा के मामले में फैसला, सीवीसी के फैसले को किया निरस्‍त – ड्यूटी पर लौटेंगे आलोक वर्मा


Suprem Court verdict on Alok Verma Case

सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला देते हुए CBI निदेशक आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजने के सीवीसी के फैसले को निरस्‍त कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि उनको छुट्टी से भेजने से पहले अप्‍वाइंटमेंट कमेटी से सलाह लेनी चाहिए थी. उनको इस तरह पद से हटाना गलत है. इस फैसले के बाद आलोक वर्मा एक बार फिर ड्यूटी ज्‍वाइन कर सकेंगे. हालांकि इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जब तक मामले की जांच चल रही है तब तक आलोक वर्मा नीतिगत फैसला नहीं ले सकेंगे.

चयन समिति इस बारे में फैसला लेगी. जरूरत पड़ने पर आगे की कार्रवाई की जा सकती है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगले एक हफ्ते में चयन समिति की बैठक होगी लेकिन आलोक वर्मा पर निर्णय के संबंध में कोई समय-सीमा तय नहीं की गई. दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने अलोक वर्मा पर लगे आरोपों पर फैसला नहीं सुनाया है और ना ही ये मुद्दा सुनवाई में बहस का रहा था. सुप्रीम कोर्ट ने फैसला इस बात पर सुनाया है कि आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजने का जो तरीक़ा सरकार ने अपनाया था, क्या वह सही था या नहीं?

23 अक्‍टूबर को पद से हटाया गया

उल्‍लेखनीय है कि जांच ब्यूरो के निदेशक आलोक कुमार वर्मा और ब्यूरो के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के बीच छिड़ी जंग सार्वजनिक होने के बाद सरकार ने पिछले साल 23 अक्टूबर को दोनों अधिकारियों को उनके अधिकारों से वंचित कर अवकाश पर भेजने का निर्णय किया था. दोनों अधिकारियों ने एक दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे.

  • 45
    Shares

LEAVE A REPLY