तीज मेले में 48 फीट ऊपर झूले से गिरकर हुई दो युवतियों की मौत


सावन के महीने में लगने वाला तीज मेला सभी महिलाओं और युवतियों के लिये उत्साहपूर्ण होता है इस दौरान महिलायें और युवतियां झूलों का आनन्द लेती है पर कई बार इन झूलों में हुई एक छोटी सी गलती एक हादसे का कारण बन जाती है ऐसा ही एक हादसा अंबाला में हुआ जिसमें तीज मेले में झूले से गिरकर 2 युवतियों की मौत हो गई। 50 सीट ऊंचे झूले का संचालक मौके से फरार हो गया है। हादसा अम्बाला कैंट के रंगिया मंडी स्थित हाथीखाना मंदिर के पास हुआ। यहां तीज के उपलक्ष्य में मेला लगा था। कल शाम 7 बजे रंगिया मंडी के एक परिवार की 6 लड़कियां अपने मामा के साथ मेला देखने पहुंचीं। मेले में जाकर लडकियों ने झूला झूलने की जिद की। लडकियों के बैठने के बाद झूला चला ही था कि बब्लिंग होने के कारण सबसे ऊपर वाले डिब्बे में बैठीं अंजलि (18) व दीपू (25) की सीट पलट गई। वे करीब 48 फीट ऊपर से नीचे सड़क पर आकर गिरीं। उनके सिर में गहरी चोट आई। मामा उन्हें गाड़ी में तुरंत सिविल अस्पताल ले गया, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया की तेज गति के कारण हुई बब्लिंग – प्रत्यक्षदर्शी तरुण ने बताया कि झूले की गति तेज थी। इस कारण झूला हिलने लगा। जिस सीट पर दोनों युवतियां बैठी थी, वह जोर-जोर से हिलने लगी। इसी वजह से सीट पलट गई और दोनों नीचे गिर गईं। कुछ लोग हादसे के बाद हंस रहे थे। मैं घायल युवतियों के साथ आई 4 लड़कियों को रिक्शे में लेकर सिविल अस्पताल पहुंचा और पुलिस को सूचना दी।

तीज देने आए थे किशोरी, बेटा भी था झूले में – मेरठ निवासी किशोरी लाल बहन की तीज देने बेटे के साथ अम्बाला आए थे। झूले में उनका बेटा विनय अपनी बुआ की बेटी कविता के साथ बैठा था। झूला अनियंत्रित हुआ तो दोनों ने एकदूसरे को कसकर पकड़ लिया, जिससे उनकी जान बच गई।


LEAVE A REPLY