यात्रियों से भरी बस हुई हादसे का शिकार,50 मीटर तक घिसटती चली गई बस – 17 लोगों की हुई मौत


मैनपुरी से करीब 25 किलोमीटर दूर तीरथपुर गांव के पास बुधवार सुबह एक स्लीपर कोच निजी बस पलटने से एक महिला समेत 17 लोगों की मौत हो गई। 20 जख्मी हुए। इनमें तीन की हालत नाजुक है। बस राजस्थान के जयपुर से फर्रुखाबाद के गुरसहायगंज जा रही थी। माना जा रहा है कि ड्राइवर की नींद लगने की वजह से यह हादसा हुआ। बस पलटने के बाद करीब 50 मीटर तक फिसलती चली गई। इस वजह से ज्यादा नुकसान हुआ।

– मैनपुरी के एएसपी ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि मैनपुरी-इटावा रोड पर जिले से करीब 25 किलोमीटर दूर तीरथपुर गांव के पास यह हादसा सुबह करीब 5:30 बजे हुआ। बस में जख्मी हुए यात्रियों को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है, जबकि गंभीर रूप से जख्मी हुए तीन लोगों को सैफई मेडिकल कॉलेज और फिर वहां से आगरा रैफर किया गया है।
– प्राप्त जानकारी के अनुसार बस में 60-70 लोग सवार थे।

पीड़ितों में ज्यादातर मजदूर

– पुलिस का कहना है कि इस बस में ज्यादातर ईंट भट्ठे पर काम करने वाले मजदूर थे। वे अपने गांव लौट रहे थे।
– उन्होंने बताया कि घायलों में बस का ड्राइवर भी शामिल है। उसने अपना बांया पैर गंवा दिया है।
– कहा जा रहा है कि बस को क्लीनर चला रहा था। मैनपुरी कलेक्टर प्रदीप कुमार ने बताया कि इसकी जांच की जा रही है।

ओवरलोड थी बस

– चश्मदीदों ने बताया कि बस ओवरलोड थी। कुछ यात्री छत पर भी सो रहे थे। मारे गए ज्यादातर लोगों में छत पर बैठे यात्री शामिल हैं।
– चश्मदीदों के मुताबिक, हादसे से पहले बस तेज रफ्तार से लहराती हुई चल रही थी फिर डिवाइडर से टकराकर पलटी और करीब 50 मीटर तक घिसटती चली गई। ऐसे में उनका दावा है कि उसे नींद आ गई होगी, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY