हिंदुओं और सिखों पर अफगानिस्तान में हुआ आत्मघाती हमला,19 की मौत और 20 घायल


अफगानिस्तान के पूर्वी हिस्से में स्थित एक शहर में एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया, जिसमें कम से कम 19 लोगों की जान चली गई , जिनमें कई सिख लोग भी शामिल हैं। अधिकारियों ने रविवार को इसकी जानकारी दी। हिंसा की इस ताजा घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है। गवर्नर के प्रवक्ता अतुल्लाह खोगयानी ने एएफपी को बताया कि यह हमला प्रांत के गवर्नर के परिसर से कुछ ही सौ मीटर की दूरी पर स्थित एक बाजार में हुआ है , जहां राष्ट्रपति अशरफ गनी बैठक कर रहे थे।

उन्होंने एएफपी को बताया कि 19 मृतकों में से 12 सिख और हिंदू हैं। 20 अन्य लोग घायल भी हो गए। अस्पताल में चारों तरफ शोक का माहौल है। प्रांतीय स्वास्थ्य निदेशक नजीबुल्लाह कामवाल ने 19 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की , जिनमें ज्यादातर सिख हैं। अफगानिस्तान में मरने वाले 11 सिखों की पहचान अनूप सिंह ,मेहर सिंह ,रवेल सिंह ,अवतार सिंह,अमरीक सिंह,मनजीत सिंह,इन्द्रजीत सिंह,राजू गजनदी ,तरनजीत सिंह,रूपिंदर सिंह और सतनाम सिंह के रुप में हुई है। अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि हमले में किसे निशाना बनाया गया था।

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने पुष्टि की कि एक आत्मघाती हमलावर ने हमले को अंजाम दिया। इस अशांत प्रांत में हाल के दिनों में कई घातक हमले हुए हैं। गनी के प्रवक्ता ने बताया कि राष्ट्रपति अभी भी नंगरहार में ही हैं लेकिन उनके लिए खतरे जैसी कोई बात नहीं है। गनी इस अशांत प्रांत की अपनी दो दिवसीय यात्रा के तहत आज सुबह एक अस्पताल का उद्घाटन करने जलालाबाद पहुंचे थे। यह हमला ऐसे समय में हुआ है जब एक दिन पहले गनी ने सरकार द्वारा लागू संघर्षविराम की समाप्ति के बाद अफगान सुरक्षा बलों को तालिबान के खिलाफ आक्रामक अभियान चलाने का निर्देश दिया था।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY