सेहत विभाग और पुलिस की टीम ने अवैध नशा छुड़ाओ केंद्र पर मारा छापा, डॉक्टर-जेई समेत 42 लोगों को छुड़ाया


 

42 Person Rescued by Police from illegal Drug Addiction Center during raid at Village Rupalon Ludhiana

बीते दिन पुलिस ने सेहत विभाग के साथ मिल कर गांव रूपालों मे गैर कानूनी ढंग के साथ चल रहे नशा छुडाओं केंद्र पर छापा मारा और नशा छुडाने के नाम पर बंदी बना कर रखे गए 42 नौजवानों को रिहा करवाया। यह जानकारी समराला मे बुलाई गई एसएस पी गुरशरनदीप सिंह ग्रेवाल ने प्रैस कांफ्रेंस मे पत्रकारों को दी गई।

उन्होने बताया कि छुडाए गए नौजवानों का मेडीकल करवा कर उनके वारिसों को सौंप दिया गया। मौके पर पुलिस ने केंद्र को चलाने वाले संचालक प्रितपाल सिंह निवासी समराला, भाग सिंह निवासी गोबिंदगढ़ को हिरासत मे ले लिया और इनके खिलाफ समराला पुलिस स्टेशन मे केस दर्ज किया गया। उन्होने बताया कि छुडाए गए 42 नौजवानों मे एक बीडीएस डाक्टर, लुधियाना कारपोरेशन का ठेकेदार व बिजली बोर्ड का जेई शामिल है जिनको परिवार द्वारा इस केंद्र मे दाखिल कराया गया था।

उन्होंने बताया कि यह नशा छुडाओं केंद्र पहले गांव लोपों मे किराए की इमारत मे चल रहा था और कुछ दिन पहले दोषियों द्वारा इसको गांव रूपालों मे अपनी जगह लेकर भोले भाले व्यक्तियों को मोटी रकम लेकर अपने आप को नशा छुडाने के माहिर बताकर बंदी बनाकर मारपीट करके नशा छुडवाने का केंद्र खोल लिया। इनके पास नशा छुड़ाने वाले केंद्र चलाने के लिए कोई भी लाइसेंस नही है। पुलिस इनको अब अदालत मे पेश करेगी।


LEAVE A REPLY