पंजाब में सभी 1.5 करोड़ नीले कार्ड होंगे रद्द


लुधियाना – खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में फैले भ्रष्टाचार एवं रिश्वतखोरी पर नकेल कसने के लिए कैप्टन सरकार पंजाब भर में सभी 1.5 करोड़ के करीब नीले कार्डों को रद्द करके नए सिरे जारी करेगी। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह की मोहर के बाद ही जरूरतमंद परिवारों के नीले कार्ड बनेंगे। वहीं पूर्व अकाली-भाजपा सरकार के कार्यकाल में फर्जी दस्तावेजों के सहारे नीले कार्ड बनवाने वाले उन लोगों को बाहर किया जाएगा, जो नीले कार्डों की री-वैरीफिकेशन के बावजूद भी आटा-दाल योजना का लाभ लेकर गरीबों का हक छीन रहे हैं।

खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने नीले कार्डों को रद्द करने संबंधी रणनीति भी तैयार कर ली है, जिस पर मुख्यमंत्री की मोहर लगने के बाद 1-2 दिन में इसकी घोषणा भी कर दी जाएगी। सरकार की इस पहल से न केवल फर्जी नीले कार्डधारकों के कार्ड रद्द होंगे, बल्कि उन गरीब जरूरतमंद परिवारों को भी सरकारी अनाज का लाभ मिल सकेगा, जो आज तक योजना के लाभ से वंचित हैं। मंत्री आशु द्वारा उठाए जा रहे उक्त कमद को सियासत के माहिर एक ही तीर से कई निशाने साधने की नीति मान रहे हैं।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY