पुलिस ने दुष्कर्म के आरोप में एक और बाबा को किया गिरफ्तार, शरीर की शुद्धि के नाम पर करता था दुष्कर्म


Baba Hari Narayan Arrested by Police in Rape Case

एक और कथित बाबा पर रेप का आरोप लगा है। आरोप है कि अपने को स्वयंभू बाबा कहने वाले हरि नारायण ने इलाज करने के नाम पर युवती को नशा खिलाकर हवस का शिकार बना लिया। यही नहीं, रेप के बाद उसने पीड़िता को धमकाया भी। हालांकि, इस मामले में पीड़िता सीधे दिल्ली पुलिस के पास नहीं गई, लेकिन उसने अपने साथ हुए रेप की शिकायत ई-मेल के माध्यम से दिल्ली महिला आयोग से कर दी।

नामी स्कूल में शिक्षिका का काम करती है पीड़िता

इस पर संज्ञान लेते हुए महिला आयोग ने इसकी सूचना पुलिस को दी। इसके आधार पर जनकपुरी थाना पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज कर आरोपी 40 वर्षीय बाबा हरि नारायण, उसकी सेक्रेटरी 38 वर्षीय चिन्मय मेघना और पीड़िता की 25 वर्षीय सहेली को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता की सहेली ही उसे बाबा के पास ले गई थी। यह घटना 10 जुलाई की है। 24 वर्षीय पीड़िता दिल्ली के एक नामी स्कूल में शिक्षिका का काम करती है, जहां उसकी एक महिला शिक्षिका से दोस्ती हुई। उसने बताया था कि बाबा का उपचार कैसे शरीर और आत्मा के लिए लाभकारी है। उसकी बातों से प्रभावित हो वह बाबा के आश्रम में जाने को तैयार हो गई। 10 जुलाई को जाने की तिथि निर्धारित हुई। इसके बाद उस शिक्षिका ने उससे उस दिन केवल फल खाने के लिए कहा, जिससे चिकित्सा के पूर्व उसके शरीर से गंदगी निकल जाए। स्कूल खत्म होने के बाद शाम को दोनों आश्रम पहुंचे, जहां शिक्षिका ने उसे बाबा की सेक्रेटरी चिन्मया से मिलवाया।

पीड़िता ने ई-मेल से महिला आयोग को बताई आपबीती

यहां पहले तो सेक्रेटरी ने पीड़िता को कई घंटे तक किसी न किसी बहाने रोके रखा, जिससे भूख के कारण वह वह काफी परेशान हो गई। फिर रात 8.30 बजे सेक्रेटरी ने पीड़िता को उपचार के पूर्व की जाने वाले ‘क्रिया’ के नाम पर फर्श पर लेटने को कहा। जांच के बाद सेक्रेटरी ने कहा कि चक्र बंद है, यह बाबा ही खोल सकते हैं। उसके बाद उसको नहलाया और खाना खाने के लिए दिया, जिसे खाते ही उसे नशा आने लगा। उसके बाद पीड़िता को अर्धनग्न अवस्था में कमरे में भेजा गया, जहां आरोपी बाबा पहले से नग्न अवस्था में था। वहां उसे बाबा ने बिस्तर पर सुला दिया, फिर उसे गलत तरह से छूने लगा, पर नशे में होने के कारण वह विरोध नहीं कर सकी। फिर बाबा ने उसके साथ रेप किया। होश में आने पर जब उसने शिक्षिका को इसकी जानकारी दी तो उसने चुप रहने की हिदायत दी। इसके बाद पीड़िता ने ई-मेल से महिला आयोग को आपबीती बताई। डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने बताया कि महिला आयोग से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कई स्थानों पर छापेमारी कर आरोपी बाबा, सेक्रेटरी और उस शिक्षिका को गिरफ्तार कर लिया है।

डीसीडब्ल्यू ने फिर पकड़वाया फर्जी बाबा: स्वाति मालीवाल

दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि डीसीडब्ल्यू ने फिर से एक फर्जी बाबा को पकड़वाकर उस पर एफआईआर करवाई है। सोचने वाली बात यह है कि इस लड़की के साथ बलात्कार करने में उसकी महिला मित्र ने ही फर्जी बाबा का सहयोग किया। यह बाबा उसे कहता था कि उसके निचले चक्र को खोलना पड़ेगा, तभी उसकी समस्याओं का हल निकलेगा। शिकायतकर्ता लड़की बेहद घबराई हुई है। उसने बाबा के चंगुल से निकलते ही डीसीडब्ल्यू से अपील की। इसके बाद फर्जी बाबा और उस लड़की को पुलिस ने गिरफ्तार किया। बाबाओं का यह खेल देश को शर्मसार कर रहा है, अभी भी लोगों को जागरूक होने की जरूरत है, ताकि वो बाबाओं के फैलाए जाल में न आएं।

  • 719
    Shares

LEAVE A REPLY