CAG की रिपोर्ट से हुआ खुलासा – UPA की तुलना में NDA की राफेल डील है सस्ती, जेटली ने कांग्रेस पर कसा तंज


नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG) ने कहा है कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार के दौरानहुआ राफेल लड़ाकू विमान का सौदापूर्ववर्ती संप्रगसरकार द्वारा कीगई पेशकश की तुलना में सस्ता है. संसद में आज पेश हुई नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट के अनुसार, राजग सरकार के तहतहुआ राफेल सौदापूर्ववर्ती संप्रगसरकार के दौरान इस सौदे पर हुई वार्ता पेशकश की तुलना में 2.86 प्रतिशत सस्ता है. कैग की इस रिपोर्ट पर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि ऐसा नहीं हो सकता कि सुप्रीम कोर्ट भी गलत, कैग भी गलत और सिर्फ परिवारवाद ही सही है. उन्होंने कहा कि कैग की रिपोर्ट से महाझूठबंधन का चेहरा बेनकाब हुआ है.

जेटली ने ट्वीट किया, सत्यमेव जयते.. सत्य की हमेशा जीत होती है. राफेल मुद्दे पर कैग की रिपोर्ट ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि 2016 बनाम 2007 कम कीमत, त्वरित आपूर्ति, बेहतर रखरखाव, महंगाई के आधार पर कम वृद्धि. कांग्रेस सहित विपक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, यह नहीं कहा जा सकता है कि उच्चतम न्यायालय गलत है, कैग गलत है और केवल परिवार सही है.’

जेटली ने कहा, ‘जो लोग लगातार झूठ बोलते हों, उन्हें लोकतंत्र कैसे दंडित करे.’ उन्होंने कहा, ‘महाझूठबंधन’ का झूठ बेनकाब हो गया.’


LEAVE A REPLY