केबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की समानता धृतराष्ट्र से की


Navjot Singh Sidhu

समाजसेवी संस्था नोबल फॉउंडेशन की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे सिद्धू ने गत दिवस सीनियर अकाली नेता सुखदेव सिंह ढींडसा द्वारा सभी पदों से इस्तीफा देने पर कहा कि जिस प्रकार धृतराष्ट्र को हस्तिनापुर नहीं बल्कि अपना बेटा दुर्योधन दिखता था। उसी तरह, बादल को सुखबीर दिखता है। सुखबीर व बिक्रम सिंह मजीठिया की जोड़ी ने पार्टी को बर्बाद कर दिया है। इन्होंने टकसाली नेताओं को खुड्डे लाइन लगा दिया है, जिसका प्रमाण कल ढींडसा द्वारा दिया गया इस्तीफा है और अन्य अकाली भी इसी राह पर चलने के लिए तैयार हैं। उन्होंने मास्टर तारा सिंह जैसे अकाली नेताओं को याद किया। इसी तरह उन्होंने दावा किया कि पंजाब के लोगों को उन पर विश्वास है, जिसका प्रमाण 5 चुनावों में मिली जीत, फिर नगर निगम, नगर काउंसिल चुनावों की विजय है। पेट्रोल व डीजल के रेटों में बढ़ोतरी के मुद्दे पर उन्होंने केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि डॉ मनमोहन सिंह के वक्त कच्चे तेल का रेट 150 डॉलर प्रति बैरल तक जाने के बावजूद पेट्रोल के रेट 80 रुपए प्रति लीटर के पार नहीं गए थे।

जबकि ये तेल कम्पनियों को फायदा पहुंचाने में लगे हैं। उन्होंने 1992 के आंकड़ों का वर्णन करते हुए कहा कि धान व गेहूं के एमएसपी में मात्र 5 फीसदी, जबकि डीजल में 15 फीसदी वृद्धि हुई है। जबकि पड़ोसी देशों में तेल के रेट बहुत कम हैं। पटियाला से सांसद डॉ धर्मवीर गांधी द्वारा अफीम की खेती हिमायत का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि उनके ताया जी अस्पताल से पर्ची लेकर अफीम लिया करते थे जो लम्बी उम्र जिए। लेकिन मजीठिया ने पंजाब में चिट्टे का जहर घोल दिया और माताओं को उनके बेटों की मौत पर रोने को मजबूर कर दिया। वहीं पर, डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने कहा कि पंजाब पुलिस किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए काबिल है। जालन्धर के थाना मकसूदां व मोगा के कोरियर ऑफिस में बम ब्लास्ट की घटना की उन्होंने जांच जारी होने का दावा किया। पुलिस पर अकाली दल की ओर से उठाए जा रहे सवालों को लेकर उन्होंने कहा कि हम अपना काम करना जानते हैं।

  • 719
    Shares

LEAVE A REPLY