डाइंग यूनिटों में सी.ई.टी.पी. का निर्माण कार्य जल्द होगा शुरू – अब बुढ्डे नाले में नही गिरेगा डाइंगों का दूषित पानी


Budha Nala

बुढ्डे नाले में डाइंग यूनिटों द्वारा गिराए जा रहे दूषित पानी के कारण सफाई योजना में काफी दिक्कते आ रही थी जिसका हल अब निकाल लिया गया है जिसमें पिछले कई महीनों से विधायक संजय तलवाड़ के प्रयासों के चलते ताजपुर रोड स्थित करीब 125 डाइंग यूनिटों के निर्माणाधीण 50 एम.एल.डी. क्षमता के रूके पड़े सी.ई.टी.पी. का निर्माण कार्य सोमवार को शुरू होने जा रहा है।

इस संदर्भ में लुधियाना डाइंग एसो. के शिष्टमंडल ने विधायक संजय तलवाड़ से भेंट कर सी.ई.टी.पी. का काम शुरू करने हेतु 4 करोड़ 90 लाख रूपए का चैक त्रिवेणी कंपनी को देने हेतु सौंपा। इस दौरान डाइंग संघ के प्रधान अशोक मक्कड़, महासचिव बॉबी जिंदल ने कहा कि 14 जनवरी को सी.ई.टी.पी. का निर्माण कार्य पुन: शुरू करने हेतु सुबह 10 बजे त्रिवेणी कंपनी को 11 करोड़ रुपए का चैक दिया जाएगा। डाइंग संघ ने डाइंगों के पानी को सी.ई.टी.पी. प्लांट तक पहुंचाने के लिए पहले ही 4 करोड़ रूपए सीवरेज लाइन डालने पर खर्च किए जा चुके हैं और लगभग 5 करोड़ रुपए सीवरेज की बकाया लाइन डालने पर खर्च किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि डाइंग संघ द्वारा ताजपुर रोड सी.ई.टी.पी. पर पहले ही 10 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं और त्रिवेणी कंपनी को प्लांट का काम पूरा करने हेतु करीब 56 करोड़ रुपए अगामी 9 महीनों में दिए जाएंगे। विधायक तलवाड़ ने कहा कि इसके बाद बुढ्डे नाले में डाइंग यूनिटों का दूषित पानी भी गिरना बंद हो जाएगा और साथ लगते वार्डों में सीवरेज जाम और गंदे पानी की समस्या भी समाप्त हो जाएगी। मीटिंग के दौरान प्रधान अशोक मक्कड़, बाबी जिंदल, जी.पी. सिंह, बब्बू जिंदल और बलबीर सिंह ने विधायक संजय तलवाड़ को त्रिवेणी कंपनी को दिया जाने वाला चैक भेंट किया।


LEAVE A REPLY