पंजाब में रेप पर फांसी की पहली सजा, 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म के बाद की थी हत्या


मानसा के गांव आलमपुर मंदरा में एक 6 साल की बच्ची का उसके रिश्तेदार ने अपहरण कर लिया था। बाद में उससे रेप करने के बाद उसकी हत्या कर दी थी। अदालत ने इस संबंध में आरोपी काला राम को आज फांसी की सजा सुनार्इ। यह मामला पुलिस ने 13 मई 2016 को केस दर्ज किया था।

जानकारी के अनुसार गांव आलमपुर मंदरा में एक विवाह समारोह में हरियाणा के गांव रूपांवाली से आए और रिश्ते में मामा लगते काला राम रात के समय 6 साल की नाबालिग बच्ची को बहला-फुसला कर घर से ले गया और सुनसान जगह पर ले जाकर बच्ची से बलात्कार किया फिर उसकी गला घोट कर हत्या कर दी। थाना बोहा पुलिस ने नाबालिग बच्ची के पिता के बयान पर मामला दर्ज करके काला राम को गिरफ्तार किया।

मामला अदालत में आने पर पीड़िता के वकील जसवंत सिंह ग्रेवाल की तरफ से पेश की दलीलों के साथ सहमत होते सैशन जज जसपालवरमा की अदालत ने काला राम को बलात्कार और हत्या का आरोपी मानते हुए फांसी की सजा सुनाई है। बता दें कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने पिछले दिनों छोटी बच्चियों के साथ रेप व हत्या करने वाले आरोपियों को फांसी की सजा देने संबंधी एक प्रस्ताव पंजाब कैबिनेट में पास किया था। केंद्र सरकार ने भी 12 साल से कम उम्र की बच्चियों से रेप व हत्या करने पर सख्त सजा देने का प्रस्ताव पारित किया, जिसमें फांसी का प्रावधानदिया गया।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY