कोतवाली इलाके में चोरी करने आए 5 बदमाशों से डरी पुलिस – लोगों ने खुद ही 5 चोरों को काबू कर पुलिस के हवाले किया


Theft Incident

कोतवाली इलाके में 5 बदमाश एक दुकान का गेट तोड़कर चोरी की वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। पड़ोसी को इस बात की भनक लग गई। उसने दुकान मालिक और पुलिस को सूचना दी। थाना कोतवाली की पुलिस मौके पर पहुंची परंतु 5 हथियारबंद बदमाशों से डर गई और भीतर जाने से कतराती दिखी। मौजूद लोगों के अनुसार पुलिस का कहना था कि आरोपियों के पास हथियार हो सकते है, जिसके बाद खुद ही लोग दुकान के भीतर गए और 5 चोरों को काबू कर पुलिस के हवाले किया।

कालड़ा ट्रेडर्स के मालिक रविन्द्र पाल सिंह ने बताया कि सोमवार तड़के उन्हें अढ़ाई बजे पड़ोसी ने सूचना दी कि दुकान से सामान को उठाने की आवाजें आ रही हैं। वह तुरंत मौके पर पहुंचे। इस दौरान पुलिस भी सूचना पर पहुंची हुई थी, परंतु दुकान के भीतर जाने से डरती रही। इसके बाद उन्होंने लोगों को इक्ट्ठा किया और 15-20 लोग दुकान के भीतर से चोरों को पकड़ कर लाए। उन्होंने बताया कि 3 चोर दुकान के भीतर थे जबकि 2 चोर बाथरूम में छुपे थे।

लोगों ने जमकर चोरों की छितर परेड की तो चोरों ने कबूल किया वे काजू, बादाम और अन्य सामान की पेटियां चोरी करने आए थे। एक बोरे में चोर काजू के पैकेट भर चुके थे, जिसके बाद पुलिस चोरों को लेकर थाने चली गई। इस संबंधी थाना प्रभारी अमनदीप सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। पुलिस का रवैया इस मामले को लेकर ढुलमुल वाला रहा है।

1 माह पहले भी हुई थी चोरी

दुकान मालिक रविन्द्र पाल सिंह ने बताया कि करीब 1 माह पहले उसकी दुकान में 4 लाख की चोरी हुई थी। पकड़े गए 5 आरोपियों में से 2 उसकी दुकान में काम कर चुके है। मनोज 2 साल और राहुल 3 माह काम कर चुका है। दुकान मालिक के अनुसार दोनों ने मिलकर ही पहले चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। पहली चोरी की वारदात में सफलता मिली हुई तो उन्होंने अब दूसरी वारदात को अंजाम देना चाहा था।

पुलिस नहीं करती कोई कार्रवाई

पीड़ित के अनुसार 1माह पहले हुई चोरी की रिपोर्ट उन्होंने कोतवाली पुलिस को दी थी परंतु पुलिस ने न तो मामला दर्ज किया ओर न ही चोर पकड़े। सोमवार को 2-3 बार थाने के चक्कर लगाने के बावजूद पुलिस ने मामला दर्ज करने की पुष्टि नहीं की। पीड़ित के अनुसार पुलिस सही ढंग से मामले को डील करे तो पिछली वारदात का भी खुलासा हो सकता है।

लोहे की सब्बल से तोड़ा गेट

पकड़े गए 5 आरोपी मंडी के बताए जा रहे है। आरोपियों के पास लोहे का सब्बल था। कालड़ा ट्रेडर्स नामक दुकान की पहली मंजिल पर ड्राई फ्रूट का माल बोरे में भरने के बाद चोर नीचे वाले माले में उतरे और लोहे के सबब्ल से गेट को लगभग उखाड़ दिया था। डेढ़ किंवटल भारी भरकम गेट को उखाडऩा वाकई आश्चर्यजनक था। चोरों ने सी.सी.टी.वी. कैमरे भी उखाड़ लिए थे।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY