केरल में प्रलंयकारी बाढ़, अबतक 324 लोगों की मौत, भारी बारिश की चेतावनी – देखें तस्वीरें


केरल में लगातार बारिश के कारण आयी प्रलंयकारी बाढ़ में अब तक 324 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है और 2,875 लोग बेघर हो गए हैं। वहीं भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने केरल के कोल्लम, पथनमथिट्टा, कोट्टायम, इडुकी, एर्नाकुलम, पलक्कड़, कोझिकोड और वायनाड जिलों में 17 और 18 अगस्त को भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग ने कहा है कि इन आठ जिलों में 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी।

केरल में हुए नुकसान पर एक नजर –
राजस्व विभाग की ओर से जारी आंकड़े के अनुसार राज्य को कुल 68.27 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।
मकानों के ध्वस्त होने से 13.09 करोड़ रुपए और फसलों के बरबाद होने से 55.18 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।
सूत्रों ने बताया कि राज्य के अलग-अलग हिस्सों में गुरुवार की शाम तक करीब 331 मकान पूरी तरह और 2526 मकान आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए जबकि 3393.3200 हेक्टेयर क्षेत्र में लगी फसल नष्ट हो गई।
बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से कम से कम 52,856 परिवारों के 2.23 लाख लोगों को सुरक्षित 1568 शिविरों में पहुंचाया गया है। इडुक्की, वायनाड और मल्लापुरम जिले इस प्राकृतिक आपदा से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं जहां भूस्खलन की सबसे अधिक घटनाएं हुई हैं और सर्वाधिक संख्यामें लोगों की मौत हुई है।  इस प्राकृतिक आपदा के कारण लोगों का जीवन बेहाल है। ग्यारह लोग लापता हैं और 41 लोग घायल हो चुके हैं।

बचाव कार्य में जुटी सेना –
सरकार ने भारी बारिश और कई इलाकों के पानी में डूबे होने के कारण सभी शैक्षणिक संस्थानों में अवकाश की घोषणा कर दी है।कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा और उसके आसपास के क्षेत्रों में पानी भरे होने के कारण विमानों का परिचालन 26 अगस्त तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। केरल सेवाएं विशेषकर एर्नाकुलम और त्रिशूर के बीच बाधित हैं और सड़क यातायात भी प्रभावित हुआ है। सेना, नौसेना और वायु सेना के जवान युद्ध स्तर पर राहत बचाव कार्य में जुटे हैं।

पीएम मोदी बाढग़्रस्त केरल के दौरे पर रवाना
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बाढ़ से बेहाल केरल में स्थिति का जायजा लेने के लिए रवाना हो गए। मोदी ने केरल रवाना होने से पहले ट्वीट कर यह जानकारी दी। उन्होंने लिखा , बाढ की स्थिति का जायजा लेने के लिए केरल जा रहा हूं। मोदी ने बुधवार और गुरुवार को केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन से बात कर स्थिति की जानकारी ली थी और राज्य को केन्द्र की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया था। उन्होंने रक्षा मंत्री को निर्देश दिया था कि तीनों सेना राहत और बचाव अभियान में हर संभव मदद करे।

कैप्टन ने की दस करोड़ रुपए की राहत की घोषणा –
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बाढ़ प्रभावित केरल राज्य के लिये दस करोड़ रुपए की राहत राशि की घोषणा की है। पांच करोड़ रुपए पंजाब के सीएम राहत कोष से सीधे केरल के सीएम के राहत कोष में दिये जाएंगे तथा शेष पांच करोड़ रुपए की तैयार खाद्य और अन्य सामग्री रक्षा मंत्रालय के माध्यम से वहां हवाई मार्ग से भेजी जाएगी।
बिस्कुट, रस, पानी की बोतल, मिल्क पाउडर समेत लगभग 30 टन के एक लाख फूड पैकेट लेकर वायु सेना का विमान कल केरल के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के रवाना होगा तथा शेष खाद्य सामग्री वहां की सरकार द्वारा मांगे जाने पर भेजी जाएगी।


LEAVE A REPLY