गूगल ने एड्रॉयड फोन में आधार नंबर सेव होने पर मानी गलती, मांगी माफी- ट्वीटर पर लोगों ने खड़े किए सवाल


Aadhar Card

एड्रॉयड मोबाइल फोन में अचानक से आधार नंबर सेव होने पर गूगल ने अपनी गलती मानते हुए माफी मांगी है। गूगल ने बताया कि अनजाने में उससे नंबर सेव हुआ है। कंपनी ने कहा कि एड्रॉयड सिस्टम हैक नहीं हुआ है| भारत में मौजूद ज्यादातर एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर्स के फोन में आधार कार्ड हेल्पलाइन नंबर अपने आप सेव हो गया है। आप चाहें तो इसे अपने एंड्रॉयड स्मार्टफोन की कॉन्टेक्ट लिस्ट में चेक कर सकते हैं। आधार कार्ड का हेल्पलाइन नंबर UIDAI के नाम से सेव हुआ है। आधार कार्ड हेल्पलाइन नंबर 1800-300-1947 है। हालांकि अभी कुछ स्मार्टफोन ऐसे हैं जिनमें अभी तक यह सेव नहीं हुआ है।

लोगों ने ट्वीटर पर खड़े किए सवाल

फ्रांस के एक सुरक्षा विशेषज्ञ इलियट एलडर्सन ने टि्वटर पर यूआईडीएआई से कहा, ‘कई लोग जो अलग-अलग टेलीकॉम ऑपरेटर की सर्विस यूज कर रहे हैं। इसमें कुछ लोगों के पास आधार है और कुछ के पास नहीं। उनके मोबाइल में यूआईडीएआई के नाम से एक नंबर सेव दिख रहा है। कैसे?”

UIDAI News

आधार की प्राइवेसी को लेकर फिर उठे सवाल

इस खबर को इंटरनेट पर फैलने के बाद ही कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी। इसके बाद एक बार फिर लोगों ने आधार के विश्वसनीय और प्राइवेसी पॉलीसी को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं। दिलचस्प बात यह है कि यह खबर एक ऐसे समय में आई है जब ट्राई के चीफ ने आधार कार्ड के डेटा को लेकर दावा किया था कि लोगों का आधार डेटा कहीं भी लीक नहीं हुआ है वो सुरक्षित है।

किसी नंबर को UIDAI का नंबर नहीं कहें

यूआईडीएआई ने इसी के साथ ही टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर, मोबाइल मैन्‍यूफैक्‍चरर्स, एंड्रॉयड डेवलपर्स सभी से आग्रह किया कि उनके किसी भी नंबर को पब्लिक सर्विस नंबर की डिफाल्‍ट लिस्‍ट में नहीं डालें। साथ ही 1800-300-1947 को वैलिड नहीं माना जाए।

आगे पढ़े पूरी खबर और जाने UIDAI ने क्या कहा

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY