लुधियाना के हरजिंदर सिंह कुकरेजा मलेशिया में भारतीय उच्चायोग से मिले, कुकरेजा ने गुरु नानक देव जी की आगामी 550 वीं जयंती पर प्रकाश डाला


Harjinder Singh Kukreja met Indian High Commissioner in Malaysia

अमृतसर से कुआला लम्पुर जानेवाली पहली सीधी उड़ान द्वारा सफर करके लुधियाना के हरजिंदर सिंह कुकरेजा वहां जाकर भारतीय उच्चायोग के अधिकारी मृदुल कुमार से मिले तथा उन्हें गुरु नानक देव जी की विशेष रूप से तैयार की गई तस्वीर भेंट की और आनेवाले 550 साला गुरपुरब दिवस पर होने वाले प्रोग्राम के बारे में बताया| अपने खास अंदाज़ में अमन का पैगाम देते हुए शहर के व्यापारी कुकरेजा ने गुरु नानक देव जी का सन्देश दुनिया तक पहुचाने का अमल शुरू किया|

उन्होंने कहा के सारा सिख जगत उस महान पर्व को मानाने की तैयारी में लगा हुआ है| मेरी तरफ से यह एक छोटा सा कदम है खासकर उस मुल्क में जाहां सिखों की बहुत तादाद है. हाल ही में भारती विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सार्वजानिक बयान किया के इस ऐतिहासक दिन को दुनिया भर में मनाया जायेगा| मीडिया से बात करते हुए शहर के नामवर समाज सेवक कुकरेजा ने बताया के श्री मृदुल कुमार बहुत खुश हुए और कहा के मुझे ख़ुशी है वह बाबाजी को हाई कमीशन में लेके आये हैं. मलेशिया में 100 से ज्यादा गुरद्वारे हैं और यहाँ की बारादरी के साथ हमारे अच्छे संबंध हैं. हम यकीनन इस महान गुरपुरब को अच्छे पैमाने से मनाएंगे|

कुकरेजा ने आगे बताया के वह जल्दी ही कज़ाख़िस्तान, तुर्की तथा क्यूबा जाकर भी इस मुहीम को आगे बढ़ाएंगे| दुनिया गुरु नानक देव जी को सिख धरम का अनुयायी मानती है पर यह बहुत कम लोग जानते हैं इक उन्होंने दुनिया भर में पैदल चलकर मनुखतावादी धर्म, अमन तथा प्यार का सन्देश दिया था. आज के समय में भी एक दुनिया का यात्रु बनना चाहता हूँ और इस के लिए गुरु नानक से प्रेरणा लेके उस पथ पर चलूँगा, ऐसा कुकरेजा का कहना था|

 

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY