IAS टॉपर ने Harvard में हासिल किए 170 में से 171 अंक, इमोशनल पोस्ट के साथ पिता को दिया क्रेडिट


IAS Topper Ankur Garg received 171 points out of 170 in Harvard University

आईआईटी के पूर्व छात्र और 2002 बैच के आईएएस टॉपर अंकुर गर्ग ने ‘इंसान चाहे तो कुछ भी कर सकता है’ वाली कहावत को सच कर दिखाया है. अंकुर ने हाल ही में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में 170 में से 171 अंक हासिल कर इस बात को सही साबित कर दिखाया है कि इंसान अपनी मेहनत और प्रतिभा के दम पर कुछ भी हासिल कर सकता है. बता दें अंकुर गर्ग हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में ‘इंटरनेशनल डेवेलपमेंट’ की पढ़ाई कर रहे हैं, जिन्होंने हाल ही में मैक्रो इकोनॉमिक्स में 170 में से 171 अंक हासिल करते हुए हर किसी को हैरान कर दिया है. वहीं अधिकारी अंकुर गर्ग ने अपने उपलब्धि का श्रेय अपने पिता को देते हुए कहा कि मेरे पिता बचपन में मुझसे जो कहते थे वह सच साबित हो गया.

हार्वर्ड विश्वविद्यालय छात्र निकाय की अध्यक्ष बनीं श्रुति पलानीअप्पन

सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए आईएएस अधिकारी अंकुर गर्ग ने बताया कि ‘जब में स्कूल में था, मेरे पिता हमेशा मुझसे कहते थे कि 10 में से 10 लाना कोई बड़ी बात नहीं है. यह पर्याप्त नहीं है. हमेशा कोशिश करो कि तुम्हें 10 में से 11 अकं मिलें और तब मैं समझ ही नहीं पाता था कि यह कैसे होगा, लेकिन आज मुझे यह समझ आ गया है.’ अंकुर ने फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर करते हुए इसकी जानकारी देते हुए बताया कि यह इसलिए भी खास है क्योंकि इस पर जेफरी फ्रैंकेल ने साइन किया है. बता दें जेफरी फैंकेल एक मशहूर इकोनोमिस्ट हैं और हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी के केनेडी स्कूल में प्रोफेसर हैं.

बता दें अंकुर का जन्म पंजाब के पटियाला में हुआ है और महिंद्रा कॉलेज पटियाला से नॉन मेडिकल में प्लस 2 और आईआईटी दिल्ली से बीटेक की पढ़ाई की है. इसके अलावा उन्होंने सिविल सर्विसेज 2002 की परीक्षा में भी टॉप किया था. उन्होंने महज 22 साल की उम्र में आईएएस में टॉप करते हुए अलग ही कीर्तिमान रचा था. फिलहाल अंकुर हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में इंटरनेशनल डेवेलपमेंट में दो साल का डिप्लोमा कोर्स कर रहे हैं. बता दें अंकुर ने अपने फेसबुक एकाउंट पर मैक्रो इकोनॉमिक्स में अपने स्कोर की फोटो भी शेयर की है.

49067604_10155610604870738_5294185780942471168_n


LEAVE A REPLY