नियाने ऑफ पंजाब सीजन-3 के ग्रैंड फिनाले में बच्चों ने दिखाया अपना टैलेंट


लुधियाना में द कार्निवल्स द्वारा एक शो ‘नेयाणे ऑफ़ पंजाब सीजन-3’ का ग्रैंड फिनाले का आयोजन गुरु नानक भवन में किया गया।जिसमें छोटे छोटे बच्चों ने अपनी प्रतिभा का जादू से सब का मन मोह लिया।बच्चों ने मॉडलिंग, डांस, आर्ट, कॉमेडी, मिमिक्री, ऐक्टिंग ओर सिंगिंग करके अपनी प्रतिभा सब के सामने पेश की।द कार्निवल्स की दीक्षा कालड़ा ने बताया कि इस शो के ऑडिशन्स पूरे पंजाब में लिए गए लुधियाना,जालंधर,अमृतसर,मोगा,पटियाला और मोहाली आदि शहरों में हुए।इस ग्रैंड फिनाले के लिए सेमीफाइनल से 100 बच्चों ने फाइनल में हिस्सा लिया। उन्होने बताया कि इस शो में बच्चों ने 4 टाइटलो के लिए संघर्ष किया।जिनमें ‘सन् ऑफ़ पंजाब’, ‘पंजाबी मुटियार’, ‘जूनियर सिंह’ और ‘ जूनियर कौर’ शामिल है।सन ऑफ पंजाब में मेहरांस,धैर्य टंडन,वंश विजेता रहे।पंजाबी मुटियार में मायरा कोहली,साइडर,सिया विजेता रहे।

बेस्ट म्युजिशयन सर्वेश रहा। शो में विशेष रूप से लुधियाना के पूर्व मेयर हरचरण सिंह गोहलवारिया,वीनस इंडस्ट्री के बिपिन गुप्ता,टर्मिनल 5 के जे.जे लाउन्ज, डिज़ाइनर राहुल कपूर,को एक्टर जसप्रीत, बिंदिया सूद,करण पुंडीर,कवल छाबड़ा आदि मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित हुए। ग्रैंड फिनाले में निर्णायकों की भूमिका जे. के. एस खेड़ा,अमन गेहर,गैरी सिंह,डॉ कुलविंदर कौर,मैंडी संधू,सैंडी संधू ने भूमिका निभाई। फिनाले में बच्चों को उनकी प्रतिभा को देखते हुए पार्टिसिपेशन सर्टिफिकेट,ट्रोफिस और तरह तरह के उपहार भी दिया गए।अंत मे दीक्षा कालड़ा ने बताया कि इस तरह के इवेंट करवाने का मकसद यही है कि बच्चो में छिपी प्रतिभा को आगे ले के आना।विजेताओं बच्चों को जे के एस खेडा प्रोडक्शन कंपनी की तरफ से आगे मूवीज़ में काम करने का मौका मिलेगा।

  • 77
    Shares

LEAVE A REPLY