लोकसभा चुनाव के लिए पुलिस विभाग ने शुरू की तैयारी – सादी वर्दी में नशा और शराब तस्करों पर रखी जायेगी नजर


Drugs

लुधियाना – चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव के शंखनाद होते ही पुलिस विभाग ने भी कमर कस ली है। पुलिस ने नशा तस्करों पर नजर रखने के लिए स्पेशल टीम बनाई है। यह खुफिया विभाग की तरह इलाकों में काम करेगी। इस टीम ने अभी से ही पुराने और बड़े नशा तस्करों की सूची बना ली है। इसके अलावा पुलिस कर्मी रोजाना सादी वर्दी में इलाकों में गश्त करेंगे और नशा तस्करी करने वालों पर नजर रखेंगे। इसमें इलाके की टीम में महिला कर्मियों को भी शामिल किया गया है।

चुनाव में नशे की सप्लाई को रोकने के लिए पुलिस की तरफ से थाना स्तर पर नशा तस्करों की लिस्टें तैयार की गई। इसमें उनको शामिल किया गया है, जो पिछले काफी समय से नशा तस्करी कर रहे हैं और इस समय जमानत पर छूट कर बाहर आए हुए हैं। इसके अलावा पुलिस कुछ नशा तस्करों को जेल से भी प्रोडक्शन वारंट पर लाने की तैयारी कर रही है।

नए एसएचओ बना रहे नेटवर्क ताकि पकड़ में आ सकें तस्कर

लोकसभा चुनाव से पहले लुधियाना पुलिस कमिश्नरेट के सभी एसएचओ के तबादले हो चुके हैं। इस समय नए अधिकारियों को थाने का प्रभारी बनाया गया है जिन्हें अभी पूरी तरह इलाके के तस्करों के बारे में जानकारी नहीं है। अधिकतर एसएचओ पहले इलाके के लोगों से मिलकर तस्करों को लेकर संपर्क बनाने में जुटे हुए हैं ताकि उनके इलाके में कोई तस्कर नशा बेचता है, तो उसकी जानकारी उन्हें मिल सके। एसएचओ थाने में मौजूद पुराने मुलाजिमों से भी जानकारी जुटा रहे हैं।

शराब और अफीम तस्करी पर पुलिस की पैनी नजर

चुनाव के दौरान सबसे अधिक शराब, चूरापोस्त और अफीम की तस्करी होती है। इसको लेकर पुलिस के मुलाजिम स्पेशल काम करने में जुटे हुए हैं। पुलिस ने जमानत पर छूटे सभी शराब तस्करों को थाने में बुलाकर चेतावनी भी दे दी है कि अगर किसी भी तस्कर ने चुनाव के दिनों में तस्करी करने की कोशिश की तो उसके खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जाएगी।


LEAVE A REPLY