धुंध के कारण नेशनल हाईवे पर हुआ हादसा – पत्नी और बच्चों से शाम को घर जल्दी आने का बोल कर गए लुधियाना निवासी की हुई मौत


Car Accident

टिब्बा रोड निवासी दीपक कुमार घर पर पत्नी को शाम को जल्द वापस आने का कहकर गए थे, मगर घर से जाने के तीन घंटे बाद उनकी मौत की खबर आ गई। दो बच्चों के पिता दीपक घर से अपनी कार में निकले थे। तीन घंटे बाद उनके सड़क हादसे में मौत की खबर घर पहुंच गई। कोहरे ने उनके हंसते खेलते परिवार में गम बिखेर दिया। बता दें कि टिब्बा रोड के गोपाल नगर निवासी दीपक शर्मा समराला चौक में सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट के रेडीमेड अंगों की डिलीवरी करते थे। उनका आठ साल का बेटा प्रेम और पांच साल की बेटी मन्नत ने सुबह पांच बजे दीपक के निकलने से पहले वीकेंड मनाने के लिए रुकने की बात कही थी, तो उन्होंने शाम को घर जल्दी आने की बात कही थी।

दीपक शर्मा की मौत की सूचना परिवार को नहीं दी गई है। शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसे यहां के प्राइवेट अस्पताल की मोर्चरी में रखा गया है। उनके रिश्तेदार ने बताया कि परिवार के सदस्यों को उनके घायल होने संबंधी बताया गया है और सुबह उनका संस्कार किया जाएगा।

पहले खड़े ट्रक में लगी कार, गाडर लगने से मौत

दीपक शर्मा अपने साथी सचिन के साथ कार में सवार होकर अंबाला जा रहे थे। नेशनल हाईवे साधूगढ़ के पास पहले ही एक ट्रक को आग लगी हुई थी, जिसे देखने के लिए एक अन्य ट्रक के चालक ने ट्रक सड़क पर खड़ा कर दिया। पीछे से आ रहे दीपक शर्मा को धुंध के कारण दिखाई नहीं पड़ा और उनकी कार ट्रक में जा घुसी और ट्रक का गाडर उनके सिर में लग गया। उनकी मौत हो गई। इस दौरान उनकी गाड़ी के पीछे एक के बाद एक कई वाहन भी जा लगे थे, जिसमें कई लोग घायल हुए हैं।


LEAVE A REPLY