नगर निगम ने 36 घंटे में पूरा किया कब्जे हटाने का काम, आज से क्लीयर होगा मलबा


MCL Anti Encroachment Drive Near Jagraon Bridge Completed

जगराओं पुल के अनसेफ घोषित किए गए हिस्से को दोबारा बनाने में आड़े आ रहे किनारे पर हुए कब्जों को हटाने का काम 36 घंटे में जाकर पूरा हो पाया है, जिसके तहत सारे मकान तोड़ दिए गए हैं और अब वीरवार से मलबा उठाने का काम शुरू किया जाएगा। यहां बताना उचित होगा कि नगर निगम ने रेलवे की जगह पर कब्जा करके बने 100 से ज्यादा मकानों को तोडऩे की कार्रवाई मंगलवार सुबह 5 बजे शुरू की थी। जहां तक कब्जाधारियों के विरोध का डर था, उससे निपटने के लिए भारी पुलिस फोर्स का इंतजाम किया गया था।

इसके मद्देनजर कब्जाधारियों ने हल्का विरोध करने के बाद मकान खाली करके फ्लैटों में शिफ्ट होने की सहमति दे दी थी, जिसके बाद नगर निगम टीम ने पहले मंगलवार देर रात तक कब्जे तोडऩे की कार्रवाई जारी रखी और बुधवार सुबह फिर साइट पर आकर बकाया बचे कब्जों पर भी बुल्डोजर चला दिया। यह कार्रवाई शाम करीब 5 बजे मुकम्मल हुई और अब साइट क्लीयर करने के लिए मलबा उठाने का काम शुरू किया जाएगा।

कब्जे तोडऩे दौरान ट्रैफिक समस्या बढऩे से लोग हुए बेहाल

जगराओं पुल का अनसेफ हिस्सा बंद होने कारण लोग पहले से ही ट्रैफिक जाम की समस्या का सामना कर रहे हैं। अब पुल तोडऩे का काम शुरू करने के नाम पर दोपहिया वाहनों की एंट्री बंद कर गई है जिससे लोगों को हो रही परेशानी के मद्देनजर नगर निगम ने कब्जाधारियों पर सख्ती बरतने का फैसला किया। इस कार्रवाई की वजह से टै्रफिक की समस्या में पहले से ज्यादा इजाफा हो गया। इस चक्कर में रेलवे स्टेशन रोड व फील्ड गंज की तरफ से आ रहे टै्रफिक को विश्वकर्मा चौक से घूमकर आना पड़ा, जिससे आगे जगराओं पुल तक फिर वाहनों की लंबी कतारें लगी हुई थीं। उन्हें भारत नगर चौक व सिविल लाइंस साइड जाने के लिए गर्मी में काफी इंतजार करना पड़ा।

  • 719
    Shares

LEAVE A REPLY