लुधियाना पुलिस की बड़ी कार्यवाही – घोड़ा कालोनी में नशा तस्करों के साथ कई महिला नशा तस्कर भी की गिरफ्तार


Drugs

नशा की खरीद-फिरोख्त के लिए लुधियाना ही नहीं, बल्कि पंजाब में बुरी तरह से बदनाम हो चुकी ट्रांसपोर्ट नगर के साथ लगती घोड़ा कालोनी में पुलिस के नशा क्लिन स्वीप में 30 नशा तस्करों को गिरफ्तार करके उनके कब्जे से 660 ग्राम हैरोइन, 10225 नशीली गोलियां व 4.85 लाख की ड्रगमनी जब्त की गई है।

पकड़े गए नशा तस्करों में 18 महिलाएं भी हैं। इस संबंध में मोती नगर थाने में एक दर्जन के करीब केस दर्ज किए गए है। पुलिस के इतिहास में पहला ऐसा मौका है, जब इतने बड़े स्तर पर नशा तस्करों को पकड़ा गया हो। पुलिस कमिश्नर डा. सुखचैन सिंह गिल ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान सलीम, सलीम की पत्नी बबीता, सलीम का माता शीलो, मौनी, मीनू, तोशी साहिल, मक्खन सिंह, लाखन मलिक, शेखर मलिक, शेखर की पत्नी आशु मलिक, प्रीतो, पोरा, सुनीता, प्रिंस, शकीला, वकील, गुरमीत, गुरमीत की माता बिमला, अमन, अमन की पत्नी ऊषा, अमन की माता लच्छो, सलीम, सुमित, हीना, महिंद्रो, पूजा, प्रीतो व दीपक के रूप में हुई है, जो घोड़ा कालोनी व उसके साथ लगते इलाकों के रहते हैं। इनके खिलाफ विभिन्न पुलिस अधिकारियों की शिकायत पर नशा तस्करी के केस दर्ज किए गए हैं।

पुलिस ने बताया कि इस संबंध में लगातार शिकायतें मिल रही थी कि उक्त इलाकों में नशा की खरीद-फिरोख्त का धंधा घर-घर में धड़ल्ले से चल रहा है, जिसे साफ करने के लिए 100 से अधिक पुलिस अधिकारियों की अलग-अलग टीमें बनाई, जिन्होंने पूरे इलाके की सफाई करते हुए उक्त तस्करों को नशे व ड्रग मनी के साथ रंगे हाथ काबू किया।

शहरवासियों ने ली राहत की सांस

पीरू बंदा, छावनी मोहल्ला व अन्य इलाकों को नशा मुक्त करने के बाद घोड़ा कालोनी व उसके साथ लगते इलाकों पर हुई पुलिस की इस कार्रवाई से इलाकावासियों ने ही अपितु शहरवासियों ने राहत की सांस ली है।इलाकावासियों का कहना था कि नशे को लेकर उनका इलाका बहुत बदनाम हो चुका था। उन्हें अपने बच्चों के रिश्ते करने में दिक्कत पैदा होने शुरू हो गई थी। पुलिस की इस कार्रवाई से उन्हें बहुत राहत पहुंची है। समाजसेवी गगन ढंड ने पुलिस की इस कार्रवाई की सराहना करते कहा कि इस तरह का अभियान पुलिस को समय-समय पर चलाना चाहिए। ऐसा करने से जहां नशा तस्करों के साथ-साथ अन्य अपराधियों के मन में पुलिस का डर बैठेगा, वहीं जनता में पुलिस का विश्वास भी बढ़ेगा।

  • 77
    Shares

LEAVE A REPLY