ईस्टर पर श्रीलंका में चर्च और होटलों में हुए 8 सीरियल बम धमाकों में हो चुकी है 150 से ज्यादा लोगों की मौत, करीब 400 लोग घायल


 

Eighr Serial Bomb Blast in Sri Lanka

ईसाइयों के त्योहार ईस्टर पर रविवार को श्रीलंका में 8 बम धमाके हुए, जिनमें से छह सीरियल ब्लास्ट थे। इन धमाकों में अब तक 162 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं करीब 400 लोग घायल हैं। इन हमलों में कट्टरपंथी मुस्लिम संगठन एनटीजे का हाथ माना जा रहा है। खबरों के मुताबिक 10 दिन पहले ही देश के पुलिस प्रमुख ने फिदायीन हमले को लेकर चेतावनी दी थी। हालांकि तब उन्होंने एनटीजे का नाम नहीं लिया था।

पुलिस प्रमुख ने दी थी ये चेतावनी…

– पुलिस प्रमुख पुजुत जयसुंदरा ने 11 अप्रैल को चेतावनी देते हुए कहा था, ‘एक विदेशी खुफिया एजेंसी ने कहा है कि नेशनल थोहीथ जमात (एनटीजे) देश के प्रमुख चर्चों और कोलंबो के भारतीय उच्चायोग पर आत्मघाती हमले की साजिश रच रहा है।’
– एनटीजे श्रीलंका का कट्टरपंथी मुस्लिम संगठन है। यह पिछले साल उस वक्त चर्चा में आया था जब उसने बुद्ध की मूर्तियों को तोड़ा था।

पहले तीन धमाके होटलों में हुए

– रविवार को कुल 8 धमाके हुए, जिनमें से पहले 6 सीरियल ब्लास्ट थे और इनमें तीन चर्चों और तीन होटलों को निशाना बनाया गया। इस दौरान पहला धमाका कोलंबो के कोच्चिकड़े स्थित सेंट एंथनी चर्च में हुआ, इसके बाद नेगोंबो के कतुवपितिया स्थित सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टिकलोआ स्थित चर्च में धमाके हुए।
– इनके अलावा कोलंबो में शांगरी ला होटल, किंग्सबरी होटल और सिनमन ग्रैंड होटल में भी ब्लास्ट हुए। खबरों के मुताबिक कोलंबो में होटलों में हुए ब्लास्ट में करीब 45 लोग मारे गए। वहीं नेगोंबो चर्च में 68 और बट्टकलोआ में 27 लोग मारे गए।


LEAVE A REPLY