नगर निगम कबाड़ बेच कर जुटाए पैसों से खरीदेगा नई गाडिय़ां


Municipal Corporation will Buy New Vehicles by Selling Junk

नगर निगम ने कंगाली के दौर में कबाड़ बेच कर जुटाए पैसों से अधिकारियों के लिए नई गाडिय़ां खरीदने की योजना बनाई है। यहां बताना उचित होगा कि नगर निगम के खजाने की हालत इतनी खराब हो गई है कि पिछले काफी समय से अधिकारियों के लिए नई गाडिय़ों की खरीद नहीं की गई जबकि उनमें से काफी गाडिय़ां आऊट डेटिड हो चुकी हैं जिन्हें कंडम डिक्लेयर करने के बावजूद उन गाडिय़ोंं को चलाया जा रहा है।

इनमें से कुछ गाडिय़ों के अलावा जे.सी.बी.मशीन, लोडर,टिप्पर व इंजन आदि को स्क्रैप के रूप में बेचने का फैसला किया गया जिसके तहत रखी गई बोली दौरान नगर निगम द्वारा 18 लाख की रिजर्व प्राइस के मुकाबले 37 लाख जुटाने का दावा किया है।इस पैसे से नगर निगम ने अधिकारियों के लिए नई गाडिय़ां खरीदने का फैसला किया है जिस बारे में योजना बनाने के लिए मेयर द्वारा वर्कशॉप ब्रांच को निर्देश जारी कर
दिया गया है।

पैट्रोल व मैंटीनैंस का पैसा बचाने का दिया गया है हवाला

नगर निगम के कुछ अधिकारियों को इस समय जिप्सी व एम्बैसेडर गाडिय़ां मिली हुई हैं जो काफी पुरानी हो चुकी हैं। उनकी मैंटीनैंस पर काफी ज्यादा खर्च हो रहा है ।इसी तरह पैट्रोल पर चलने वाली इन गाडिय़ों की माइलेज काफी कम है। इस खर्च को कम करने के लिए नगर निगम ने डीजल से चलने वाली बोलैरो गाडिय़ां खरीदने का फैसला किया है।

किराए पर लेकर चलाई जा रही हैं गाडिय़ां

नगर निगम द्वारा जिप्सी व एम्बैसेडर गाडिय़ां काफी पुरानी होने के मद्देनजर कुछ समय पहले अधिकारियों को किराए पर इनोवा लेकर दी गई हैं जिनका किराया किलोमीटर के हिसाब से फिक्स किया गया है जिसके तेल, मैंटीनैंस व इंश्योरैंस के पैसे भी गाड़ी के मालिक द्वारा खर्च किए जाते हैं

कुछ और गाडिय़ों को भी किया जाएगा कंडम घोषित

नगर निगम द्वारा पहले चरण में 4 बोलैरो गाडिय़ां खरीदने की योजना बनाई है क्योंकि नई गाडिय़ों पर काफी देर तक मैंटीनैंस का कोई खर्च नहीं होगा। इसके मद्देनजर नगर निगम ने नई गाडिय़ां आने के बाद उतनी ही पुरानी जिप्सी व एम्बैसेडर को कंडम डिक्लेयर करने का फैसला भी अभी से कर लिया है। इन कंडम गाडिय़ों को बेच कर मिलने वाले पैसे से उतनी ही नई गाडिय़ों की खरीद की जा सकती है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY