ससुरालियों ने घर में घुसकर दामाद को उतारा मौत के घाट – पुलिस द्वारा मामला दर्ज


 

murder

साहनेवाल की बाबा मुंद्रा वाली कॉलोनी इलाके में पारिवारिक कलह के चलते ससुरालियों ने घर में घुस कर दामाद की बेरहमी से हत्या कर दी। वीरवार सुबह उसका शव गेट के पास पड़ा मिला। सूचना मिलते ही पुलिस के अधिकारी दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। थाना कूमकलां पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराने के बाद उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया।

इंस्पेक्टर दविंदर सिंह ने बताया कि मृतक की पहचान वकील चंद (45) के रूप में हुई। वो कपड़े की दुकान पर नौकरी करता था। पुलिस ने उसकी मां मायावती के बयान पर उसकी पत्नी निशा, गोबिंदगढ़ निवासी सास तारावंती, साले नीला व शंभू के खिलाफ हत्या के आरोप में केस दर्ज किया है। अपने बयान में उसने बताया कि वकील चंद तीन बेटियों व एक बेटे का पिता था। उसकी बड़ी बेटी की शादी हो चुकी है। वकील चंद और उसकी पत्नी निशा के बीच पिछले 15-16 साल से पारिवारिक विवाद चलता आ रहा था। वकील चंद पत्नी पर शक करता था। जिसके चलते आए दिन उनके घर में झगड़ा चलता था। मंगलवार भी दोनो के बीच झगड़ा हुआ। तब निशा तीनों बच्चों को साथ लेकर मायके चली गई। मगर जाते समय वो धमकी भी देकर गई कि इस बार वो वकील चंद का काम ही तमाम करा देगी। बुधवार निशा की मां ताराबंती का वकील की मां मायावती को फोन आया। जिसमें उसने धमकी देते हुए वकील को सबक सिखाने की बात कही थी।

मायावती अपने छोटे बेटे मनोज के घर में रहती है। निशा के चले जाने के बाद वो ही वकील को खाना देकर जाती थी। बुधवार रात वो उसे खाना खिला कर गई। उसके बाद ही किसी ने तेजधार हथियार से उसकी निर्मम हत्या कर दी। घटना का पता तब चला, जब वीरवार सुबह आठ बजे मायावती उसे चाय देने के लिए पहुंची। घर का गेट भिड़ा हुआ था। उसने जैसे ही उसे खोला, अंदर फर्श पर खून ही खून बिखरा पड़ा था। उसके बीच में वकील का शव पड़ा देख उसी ने शोर मचा कर लोगों का जमा किया।

एसएचओ के अनुसार हमलावरों ने गेट खटखटाया होगा। वकील ने जैसे की गेट खोला होगा, उन्होंने हमला कर काट डाला। उसकी गर्दन, छाती और बाजू के नीचे तीन बड़े घाव हैं। आरोपितों की तलाश में रेड की जा रही है। जल्द ही उन्हें काबू कर लिया जाएगा।


LEAVE A REPLY