रेल यात्रियों को भारतीय रेलवे ने दी एक अन्य सुविधा, अब रिफंड में नहीं होगी देरी मिलेगी तुरंत जानकरी


New Facility to Refund Railway Ticket Launched by Indian Railway

भारतीय रेलवे समय समय पर अपने रेल यात्रियों को कोई ना कोई सुविधा प्रदान करती रहती है जिससे आम लोगों को काफी सुविधा मिलती है इसी प्रकार की एक सुविधा भारतीय रेलवे ने लोगों को दी है जिसकी मदद से अब लोगों को रिफंड में हो रही देरी का सामना नहीं करना पड़ेगा दरअसल रेल यात्री अब रद्द कराए गए अपने टिकटों के रिफंड की स्थिति पर लगातार नजर रख सकते हैं। इसके लिए उन्हें एक वेबसाइट पर ‘लॉग इन’ करना होगा, जिसे रेल मंत्रालय ने हाल ही में शुरू किया है। रिफंड की स्थिति को दिखाने के लिए वेबसाइट refund.indianrail.gov.in को यात्रियों के सिर्फ पीएनआर (यात्री नाम रिकार्ड) नंबर की जरूरत होगी।

इस सुविधा से रिफंड में नहीं होगी देरी

रेलवे बोर्ड के निदेशक वेद प्रकाश ने बताया कि इस सुविधा का उद्देश्य प्रणाली में पारर्दिशता लाना है और रिफंड का इंतजार करने वालों के लिए यह काफी मददगार होगा। यह वेबसाइट काउंटर से खरीदे गए टिकटों और ऑनलाइन टिकटों के लिए रिफंड की स्थिति को दिखाएगी। वेबसाइट सेंटर फॉर रेलवे इंफोरमेशन सिस्टम (क्रिस) ने बनाया है। यह प्रणाली खासतौर पर उन यात्रियों की मदद करेगी, जिन्हें टिकट काउंटरों पर ‘टिकट जमा पावती’ (टीडीआर) के जरिए दावा जमा करने को मजबूर होना पड़ता है क्योंकि वे अपने टिकट की रिफंड की स्थिति को नहीं जान पाते हैं।

पहले लोगों को 7 दिनों में मिलता था रिफंड

अभी तक आईआरसीटीसी वेबसाइट के जरिए अपना टिकट बुक करने वाले यात्रियों को ही उनके रद्द टिकटों पर आगे की प्रक्रिया और रिफंड की स्थिति के बारे में ईमेल और मैसेज भेजे जाते थे। रेलवे टिकट सभी टिकट काउंटरों, आईआरसीटीसी वेबसाइट और रेलवे पूछताछ नंबर 139 के जरिए रद्द कराया जा सकता है। गौरतलब है कि टीडीआर की स्थिति में ऑनलाइन टिकट रद्द कराने पर रिफंड की राशि यात्री के बैंक खाते में पांच दिनों में पहुंचती है। जबकि काउंटर पर टिकट रद्द कराने पर सात दिनों में रिफंड मिलता है।

  • 719
    Shares

LEAVE A REPLY