ट्रैफिक पुलिस की नई पहल – ट्रैफिक नियमों की अनदेखी करने वालों के बच्चे काटेंगे चालान, पुलिस देगी चालान बुक


Car Driving

यदि आप बिना सीट बेल्ट लगाए ओवर स्पीड गाड़ी भगाने के आदी हैं, तो आपको सावधान होने की जरूरत है। ट्रैफिक नियमों की अनदेखी करने पर अब ट्रैफिक पुलिस नहीं, बल्कि आपके साथ बैठा आपका लाडला या लाडली ही चालान काटेंगे। उस चालान को लेकर आपके लाडले के स्कूल में आयोजित की जाने वाली पेरेंट्स मीट में आपकी पेशी होगी।लगातार बढ़ रहे सड़क हादसों को रोकने के लिए डीजीपी दिनकर गुप्ता की हिदायत पर एसएसपी देहात वरिंदर सिंह बराड़ के नेतृत्व में रायकोट के थाना सदर एसएचओ गुरइकबाल सिंह सिकंद ने इसके लिए योजना बना कर उसे असली जामा पहनाने की तैयारी कर ली है, जिसमें स्कूली छात्र अहम भूमिका अदा करेंगे। ऐसा पंजाब में पहली बार होने जा रहा है। इसमें पांचवीं तक के बच्चों को ट्रेनिंग दी जाएगी।

पुलिस द्वारा छात्रों को दी जाएगी चालान बुक

इंस्पेक्टर सिकंद ने बताया कि इसके लिए पुलिस डमी चालान बुक तैयार करवा रही है, जिन्हें विभिन्न स्कूलों के छात्रों को दिया जाएगा। सभी छात्रों को ट्रैफिक नियमों के बारे में जानकारी दी जाएगी, जिसके बाद उक्त छात्र अपने माता-पिता और रिश्तेदारों के साथ वाहन की सवारी के दौरान यह नोट करेंगे कि कहीं वो नियमों की अवेहलना तो नहीं कर रहे हैं। यदि वो ऐसा करते हैं तो उक्त छात्र मौके पर ही डमी बुक से उनका चालान काटेगा।

उसकी एक कॉपी माता-पिता या रिश्तेदार को देगा, जबकि दूसरी कॉपी स्कूल में अध्यापक को देगा।इसके बाद स्कूल के अध्यापक पेरेंट्स मीटिंग के दौरान अभिभावकों को उनके बच्चों द्वारा काटे गए चालान को दिखा का भविष्य में ऐसा न करने और ट्रैफिक नियमों का पालन करने की अपील करेंगे। इंस्पेक्टर सिकंद ने कहा कि चालान बुक छपने के लिए दे दी गई है। इसी माह इस मुहिम का रायकोट से आगाज किया जाएगा।

रंग लाएगी नई पहल: एसएसपी

एसएसपी देहात वरिंदर सिंह बराड़ का कहना है कि स्कूली छात्रों द्वारा डमी चालान काटने की नई पहल रंग लाएगी। इससे न केवल विद्यार्थी ट्रैफिक नियमों के लिए पहरेदार का काम करेंगे। वहीं, उनकी डमी कार्रवाई अभिभावकों को हकीकत में ट्रैफिक नियमों का पालन करने के लिए सबक देगी।

 

  • 122
    Shares

LEAVE A REPLY