पाकिस्तान सरकार ने दिया खालिस्तान को समर्थन, लाहौर में खुलेगा खालिस्तान का प्रचार ऑफिस – ननकाना साहिब में लगाए भारत के खिलाफ पोस्टर्स


भारत के खिलाफ खालिस्तान को समर्थन देने को लेकर एक बार फिर पाकिस्तान की पोल खुल गई है। इस बार पाक में भारत विरोधी प्रचार के लिए नया ब्लू प्रिंट तैयार किया गया है जिसे साकार रूप देने के लिए पाकिस्तान सरकार व सेना साथ देगी । पाक में सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 549वीं जयंती मनाने के लिए ननकाना साहिब पहुंचे भारत सहित विभिन्न देशों के हजारों सिख तीर्थयात्रियों की भारत विरोधी भावनाओं को भड़काने के लिए ये नया हथकंडा अपनाया जा रहा है। इसके लिए पाक सरकार द्वारा ननकाना साहिब गुरुद्वारा पर खालिस्तान समर्थन के पोस्टर्स लगवाने के बाद अब खालिस्तान प्रचारकों को ‘रेफरेन्डम 2020′ के लिए लाहौर में अपना कार्यालय खोलने की अनुमति दे दी गई है।

रेफरेन्डम 2020’ अभियान का उद्देश्य पंजाब को शेष भारत से अलग करना है ताकि पूर्वी पाकिस्तान को अलग किया जा सके, जिससे बांग्लादेश का निर्माण हुआ। जानकारी के अनुसार ‘रेफरेन्डम 2020’ के पंजीकरण के लिए लाहौर में SFJ का एक स्थायी कार्यालय स्थापित किया जाएगा। यह सिखों के लिए सूचना केंद्र के रूप में भी काम करेगा। SFJ के गुरपतवंत सिंह पानुन ने गुरुवार को कहा कि वे अगले वर्ष गुरु नानक देव के 550वें जयंती समारोह के दौरान ‘जनमत 2020’ के लिए वोटों का पंजीकरण शुरू करेंगे।

पन्नुन ने पुष्टि की कि ‘जनमत संग्रह 2020’ के प्रचार के लिए जरनैल सिंह भिंडरावाले के आदमकद चित्र वाले बैनर और खालिस्तान के झंडे पूरे नानकाना साहिब परिसर में लगाए जाएंगे। इसके अलावा SFJ कार्यकर्ता विभिन्न देशों से पाकिस्तान जाने वाले सिख श्रद्धालुओं के बीच पंजाब की स्वतंत्रता के लिए करवाए जाने वाले जनमत संग्रह के प्रचार के लिए टी-शर्ट और पुस्तिकाएं वितरित करेंगे। खुफिया सूत्रों का मानना है कि भारत विरोधी इस अभियान के लिए पाकिस्तान सेना के एक शीर्ष अधिकारी को नियुक्त किया गया है। सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी सेना और आईएसआई के अधिकारी खालिस्तान और कश्मीरी आतंकवादियों को एक साथ लाने पर चर्चा करने के लिए ब्रिटेन और अमरीका के कई सिख नेताओं के साथ बैठकें भी कर रहे हैं।

ननकाना साहिब में लगाए भारत के खिलाफ पोस्टर्स

बता दें कि गुरु नानक देव की 549वीं जयंती के अवसर पर गुरुद्वारा ननकाना साहिब की यात्रा करने के लिए 3,800 भारतीय सिखों को पाकिस्तान जाने के लिए पाक की ओर से वीजा जारी किया गया है।यह यात्रा इस साल 21 से 30 नवंबर के बीच हो रही है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पाक के गुरुद्वारों में भारत के खिलाफ खालिस्तान समर्थकों के पोस्टर लगाए गए हैं.। खासकर ननकाना साहिब के रास्ते में ऐसे पोस्टर लगाए गए हैं जो खतरे का संकेत हैं।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY