यदि आप 19 मई को करने वाले है रेल और बस सेवा का उपयोग तो जरुर पढ़ें यह खबर


 

Train and Bus Service

यदि आप 19 मई को कहीं जाने का मन बना रहे हैं तो अपनी प्लानिंग में कुछ सुधार कर लें। कारण, इस दिन रेल और बस सेवा प्रभावित रहेंगी। इस दिन अंबाला डिवीजन ने सहारनपुर-अंबाला सेक्शन के मध्य आने वाले बराड़ा-केसरी स्टेशन के पास बनाए जा रहे ब्रिज को तैयार करने के लिए करीब 15 घंटे का ब्लॉक तय किया है। इस दौरान कई ट्रेनें जहां रोक-रोक कर चलाई जाएंगी, वहीं कुछ ट्रेनों का रूट भी बदला गया है। इसके अलावा अधिकतर बसें को चुनावी ड्यूटी में लगी होने के कारण यात्रियों को आने-जाने में मुश्किल हो सकती है।

वाया चंडीगढ़ चलाई जाएंगी कई ट्रेन

ब्लॉक की वजह से बठिंडा जंक्शन 54552/53, हिसार लुधियाना 54636/35, चुरु लुधियाना 54605, जालंधर सिटी दरभंगा अंत्योदय एक्सप्रेस 22552 को न्यू मोरिंडा-चंडीगढ़ के रूट से, अमृतसर सियालदाह जलियांवाला बाग एक्सप्रेस 12380 और जम्मूतवी-हजूर साहिब नांदेड़ हमसफर एक्सप्रेस 12752 को वाया साहनेवाला-चंडीगढ़ रूट से चलाया जाएगा। इसी तरह छत्रपति शिवाजी महाराज-अमृतसर जंक्शन एक्सप्रेस 11057, छत्रपति शिवाजी महाराज-अमृतसर जंक्शन एक्सप्रेस 11058, नंगल डैम-अंबाला कैंट एमई एमयु पैसेंजर आदि ट्रेनें प्रभावित होंगी।

राजनीतिक स्वामित्व वाली निजी बसें भी घरेलू ड्यूटी पर

पंजाब में ऐसी बहुत ही निजी ट्रांसपोर्ट कंपनियां हैं, जो राजनीतिक स्वामित्व से संबंधित हैं। चुनाव के कारण राजनीतिक स्वामित्व वाली कंपनियों से संबंधित बसें भी अपने अपने हलकों में उपलब्ध करवाई जाएंगी, जिससे उनका नियमित ऑपरेशन भी प्रभावित होगा और यात्रियों को सरकारी के अलावा निजी बसें भी उपलब्ध नहीं हो सकेंगी। इसलिए इस दिन यात्र करने वालों को परेशानी हो सकती है।

टाटा मुरी साढ़े 13 व कटिहार एक्सप्रेस सवा दस घंटे लेट

अंबाला डिवीजन में लगाए गए ब्लाक की वजह से सोमवार को भी ट्रेनों की रफ्तार पर असर पड़ा। इनमें टाटा-मुरी एक्सप्रेस 13.30 घंटे, कटिहार एक्सप्रेस 10.12 घंटे, ब्रोनी एक्सप्रेस 9 घंटे, नादेड़ साहिब पौने तीन, जननायक तीन, अकाल तख्त पौने दो, सहरसा डेढ़ घंटा देरी से आई।

अधिकतर सरकारी बसें लगाई गईं चुनावी ड्यूटी पर

यदि आप ट्रेन की बजाए बस से सफर करना चाहते हैं तो भी परेशान हो सकते हैं। चुनाव के कारण चुनाव आयोग ने अधिकतर बसों को बुक कर रखा है। ऐसे में इक्का-दुक्का बसें ही आपको चलती मिलेंगी। गर्मी में भीड़ ज्यादा होने के कारण आपको खासी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। मतदान रविवार 19 मई को होना है और शनिवार को यह बसें चुनावी अमले को सौंप दी जाएंगी। इन बसों को शुक्रवार को ही उन रूट्स से हटा लिया जाएगा, जिनसे बसें दूसरे दिन वापस डिपो में पहुंचती हैं। इस कारण शुक्रवार से लेकर रविवार तक लोगों के लिए बसें पर्याप्त संख्या में उपलब्ध नहीं होंगी। पंजाब रोडवेज के जनरल मैनेजर परनीत सिंह मिन्हास ने आशा जताई है कि आगामी सोमवार से बसों का नियमित ऑपरेशन शुरू हो जाएगा।


LEAVE A REPLY