ताजपुर रोड स्थित सैंट्रल जेल में बंदी फेसबुक के जरिए बेखौफ कर रहे वीडियो कॉलिंग, जांच के दौरान पुलिस द्वारा 3 मोबाइल बरामद


 

Central Jail Ludhiana

जेलों की विभिन्न बैरकों के अंदर कुख्यात किस्म के बंदियों द्वारा चोरी/छिपे मोबाइल में फेसबुक के जरिए वीडियो कॉलिंग के साथ बाहर अपने आकाओं से बेखौफ होकर बातें करना जेल प्रशासन की सुरक्षा के प्रति चुनौती है। जेलों के अंदर कीमती एंड्रॉयड फोन किस तरफ बंदियों को उपलब्ध हो जाते हैं, जिसका जेल अधिकारियों को आज तक पता नहीं चल पाया है। सूत्रों के अनुसार जेल प्रशासन को भनक मिली कि रिसैप्शन वार्ड की बैरक नं. 8 में बंदी चोरी-छिपे मोबाइलों का इस्तेमाल करके फेसबुक पर फोटोज अपलोड कर रहे हैं।सूचना मिलने पर सर्च टीम ने ताजपुर रोड स्थित सैंट्रल जेल की बैरक में जाकर तलाशी करने पर 1 कैदी व 2 हवालातियों से मोबाइल फोन बरामद करके आगामी जांच शुरू कर दी है। जेल की रिसैप्शन ब्लाक की विभिन्न बैरकों में कई बंदी चोरी-छिपे मोबाइलों का इस्तेमाल कर रहे हैं। ऐसे में बंदियों पर ठोस कार्रवाई किस कारण नहीं हो पाती है यह समझ से दूर है।

मोबाइल मिलने वाले बंदियों पर पहले से दर्ज हैं मामले

सहायक सुपरिंटैंडैंट शिव कुमार ने पुलिस को एक शिकायत पत्र भेजा, जिसमें कैदी राकेश कुमार बॉक्सर थाना डाबा में हत्या का मामला दर्ज होने पर उम्र कैद की सजा भुगत रहा है। उक्त कैदी से एंड्रॉयड फोन के साथ 2 सिम कार्ड भी पकड़े गए हैं, जबकि दीपक कुमार उर्फ दीपू थाना डाबा में ए.डी.पी.एस. एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज होने पर 31 जनवरी, 2019 को जेल में आया है, जिससे भी मोबाइल के साथ 2 सिम पकड़े गए हैं और दविन्द्र सिंह उर्फ जीती थाना सराभा नगर में ए.डी.पी.एस. एक्ट का मामला दर्ज होने पर 14 अप्रैल, 2019 को जेल आया है, जिससे भी 1 मोबाइल पकड़ा गया है।

जेल अधिकारियों के ध्यान में लाया गया है मामला

जेल सुपरिंटैंडैंट शमशेर सिंह बोपाराय ने बताया कि जेल के मैंटीनैंस डिप्टी सुपरिंटैंडैंट के निर्देशानुसार सर्च के दौरान रिसैप्शन ब्लाक की बैरकों से बंदियों से सिम कार्ड सहित मोबाइल बरामद किए गए है। उन्होंने बताया कि इस तरह की सूचनाएं मिल रही थीं कि बंदी चोरी-छिपे फेसबुक एप अपलोड कर रहे हैं लेकिन इस तरह का तथ्य सामने आने पर कार्रवाई होगी। उक्त बंदियों पर जेल मैनुअल के अनुसार कार्रवाई करके सैलों में बंद किया गया है, जबकि जेल अधिकारियों के ध्यान में भी मामला लाया गया है।

बंदियों को प्रोडक्शन वारंट पर लाकर की जाएगी पूछताछ

ताजपुर पुलिस चौकी के एस.आई. सुदर्शन कुमार ने बताया कि 3 बंदी आरोपियों पर मोबाइल व सिम कार्ड बरामद होने का मामला दर्ज कर लिया गया है, जिसकी कॉल डिटेल भी निकलवाई जाएगी और बंदियों से प्रोडक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ की जाएगी।


LEAVE A REPLY