फोकल प्वाइंट एरिया में एएसआइ नेम प्लेट बदल कर रहा था अवैध वसूली, किया गया लाइन हाजिर


Bribe Caseलुधियाना शहर के फोकल प्वाइंट एरिया में नेम प्लेट बदलकर अवैध वसूली कर रहे एएसआइ और कांस्टेबल को पुलिस ने मौके पर ही पकड़ लिया। वह राहगीरों को रोककर उनके कागजात चेक करते थे और उनसे पैसे ऐंठ रहे थे। इसका पता तब चला जब एक छोटा हाथी चालक को उक्त एएसआइ ने रोका और कागजात चेक करने के बाद उससे नौ हजार रुपये मांग लिए। जब वह पैसे का जुगाड़ करने मार्केट में गया तो वहां मौजूद एक समाजसेवी ने उसके साथ पहुंचकर पूरे मामले संबंधी जानकारी सीपी सुखचैन सिंह गिल को दे दी।

मौके पर पहुंचे एसीपी और फोकल प्वाइंट पुलिस ने दोनों को राउंडअप किया है और उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है। दरअसल राहुल नाम का एक युवक छोटा हाथी पर माल ढुलाई का काम करता है। उसने फोकल प्वाइंट स्थित रॉक मैन फैक्ट्री से कुछ सामान लोड किया था और इसे कुछ ही दूरी पर फैक्ट्री में छोडऩा था। वह छोटा हाथी लेकर जा रहा था, तभी पीसीआर की गाड़ी पर सवार एएसआइ और कांस्टेबल ने उसे रोका और कागजात दिखाने को कहा। उसने सभी कागजात दिखा दिए, उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस लर्निंग था।

एएसआइ ने उससे इस संबंधी पूछा तो उसने बताया कि उसके पास यही लाइसेंस है अगर वह चाहें तो उसका चलान कर सकते हैं। एएसआइ ने कहा कि अब तो गाड़ी ही इंपाउंड होगी और उसने हवलदार को गाड़ी थाने ले जाने को कहा। राहुल को बताया गया कि उसका 17 हजार रुपए जुर्माना बनता है, अगर जुर्माना नहीं देगा तो गाड़ी बंद होगी और सामान भी जब्त कर लिया जाएगा। रास्ते में राहुल ने एएसआइ से मिन्नत की तो उसने कहा कि 9 हजार रुपये दे दे तो वह मामले को रफा दफा कर देगा। वह नौ हजार रुपये लेने के लिए मार्केट गया तो वहां उसकी मुलाकात राजवीर नामक व्यक्ति से हुई और उसने यह पूरी कहानी उसे बता दी। वह उसके साथ

एएसआइ के पास गया और इस संबंधी बात की तो एएसआइ उसे भी धमकाने लगा। बाद में राजवीर ने इसकी शिकायत तुरंत सीपी को कर दी, जिन्होंने तुरंत एसीपी इंडस्ट्रियल एरिया और थाना फोकल प्वाइंट को मौके पर पहुंच जांच करने को कहा। इस दौरान वहां पर एक अन्य युवक भी आया उसने भी यही कहानी उन्हें बता दी। बाद में पुलिस उक्त दोनों को थाने ले गई। यहां जाकर पता चला कि एएसआइ का नाम रवि कुमार है और उसने नेम प्लेट विजय कुमार के नाम की लगा रखी थी, ताकि जब उसकी शिकायत हो तो उसका पता ही चल सके। सूत्रों के अनुसार उक्त दोनों पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है। एसीपी इंडस्ट्रियल एरिया हरजिंदर सिंह ने कहा कि हां ऐसा मामला आया है, हम जांच कर रहे हैं। अभी इस संबंधी कुछ नहीं बताया जा सकता है।


LEAVE A REPLY