सिद्धपीठ श्री दंडी स्वामी मंदिर में चल रही भक्तमाल कथा से पूर्व निकाली गई प्रभात फेरी


सिद्धपीठ श्री दंडी स्वामी मंदिर में पंडित राज कुमार जी की अध्यक्षता में चल रही भक्तमाल कथा से पूर्व सुबह परभात फेरियां निकाली जा रही है। प्रभात फेरी सिद्धपीठ मंदिर से आरंभ होकर विभिन्न इलाको से होते हुए वापिस सिद्धपीठ मंदिर में आकर संपन्न हुई। सांय 6 बजे वृदावन से पधारे नामनिष्ठ गौवत्स श्री राधा कृष्ण जी महाराज ने कथा का शुभांरभ करते हुए कहा कि जिस मालिक, परमात्मा का हम गुणगान करते है वही हमारी फिकर करते है। राधा कृष्ण महाराज ने कहा कि छआकुर जी से उनकी सेवा मांगे। इसी से जीवन धन्य हो जाएेगा। मन में यह भाव सदा रखे कि हमारे पास जो कुछ भी है किसी ना किसी रूप में ठाकुर जी और उनके भक्तो के काम आ जाए। यदि वैष्णव आपके घर आएं तो इसे भी ठाकुर जी की कृपा माने। अपने मन से दास्य भाव को कभी जाने ना दे ।

इस दौरान राधा कृष्ण महाराज ने अपने भजनो हम चाकर राधा रानी के, कृपा कनरे का जो इरादा है तेरा तो कृपा कर छोड जो विषयो का फेरा, अधम से अधम हो रहा हूं मैं लेकिन कृपा पर कृपा तुम किए जा रहे हो आदि गाकर सबको निहाल कर दिया। राधे राधे की मगंल धुन से सारा वातावरण वृंदावन सा नाजारा पेश कर रहा था। पंडित राज कुमार जी ने ठाकुर जी का गुणगान करते हुए उनके माधुर्य की बात कही। प्रभु आरती से कथा को विश्राम दिया गया।।ये कथा का आयोजन प्रतिदिन 7 अक्टूबर तक साय: 6 बजे से रात्रि 8.30 बजे तक निरंतर चलेगा।आप सब हरि भक्त कथा का आनंद लेने के लिए जरूर पधारे।कथा के दौरान रोज प्रातःकाल 6.30 से 7.30 लुधियाना के अलग अलग जगह में प्रभातफेरी निकाली जा रही है।इस अवसर पर काले खान,नरिंदर शर्मा,चेतन खोसला,तीर्थ राम,प्रवीण गुप्ता,सुन्दरदास धमीजा,मनमोहन भट्ट,सोमनाथ बबू,पुनीत शर्मा,प.नंदलाल शर्मा,प्रमोद गुप्ता,गुलशन नागपाल,अमित गुग्लानि, सुभाष क्वात्रा,जीत कपूर आदि उपस्थित थे।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY