अफगानिस्तान में सिखों और हिन्दुओं पर हमला इंसानियत के लिए शर्म की बात – शाही इमाम पंजाब


Press Conference Organised at Jama Masjid Ludhiana

लुधियाना – अफगानिस्तान के शहर जलालाबाद में सिखों और हिन्दुओं के डेलीगेट की बस पर किए गए हमले को इंसानियत के लिए शर्म की बात बताते हुए आज यहां ऐतिहासिक जामा मस्जिद लुधियाना में शाही इमाम मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवीं ने प्रैस कान्फ्रेंस में कहा कि अफगान राष्ट्रपति को चाहिए कि अल्पसंख्यकों के ऊपर किए गए इस हमले में शामिल आतंकियों को गिरफ्तार कर सरेबाजार चौराहे पर गोली मारे। शाही इमाम मौलाना हबीब उर रहमान ने कहा कि अफगान के अल्पसंख्यकों के साथ हुई सबसे बड़ी घटना ने अफगानों के इतिहास में काला पन्ना जोड़ दिया है जो कि कभी मिट नहीं सकेगा। उन्होने कहा कि इस हमले में अफगानिस्तान के सिख नेता अवतार सिंह खालसा समेत बीस लोगों की मौत हो गई है और अवतार सिंह का पुत्र भी गंभीर रूप से घायल है।

उन्होने कहा कि घायलों को इलाज के लिए जल्द ही किसी बड़े विदेशी अस्पताल में भेजना चाहिए। शाही इमाम मौलाना हबीब उर रहमान ने कहा कि आतंकी जब भी किसी धार्मिक नेता पर यां किसी धार्मिक स्थान पर हमला करते है तो उनका उद्देश्य जनता में दरार डालना होता है। उन्होनें कहा कि पूरे विश्व में रहने वाले सिख और हिन्दू भारतीयों का अभिन्न अंग है, उन्हें कोई भी तकलीफ पहुंचे तो हम बदार्शत नहीं करेगें। शाही इमाम ने कहा कि अफगानिस्तान की सरकारें वहां अमन और शांति को बनाए रखने में नाकाम साबित हुई है। इस अवसर पर गुरुद्वारा दुख निवारण साहिब के प्रधान स.प्रितपाल सिंह , श्री ज्ञान स्थल मंदिर के प्रधान जगदीश बजाज जी, नायब शाही इमाम मौलाना उसमान रहमानी लुधियानवीं, मुहम्मद मुस्तकीम अहरारी विशेष रूप से उपस्थित थे।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY