शहरवासियों को जगराओं ओवर ब्रिज के लिए करना पड़ेगा अभी और इंतजार


Jagraon Bridge

जगराओं ओवर ब्रिज बनाने में अभी एक वर्ष और लग जाएगा। ब्रिज बनाने का लक्ष्य दिसंबर 2018 तक रखा गया था, लेकिन काम का रवैया देख लगता है कि यह ब्रिज वर्ष 2019 में पूरा हो जाए तो भी बड़ी बात है। अफसर बताते हैं कि पुराने रेल ओवर ब्रिज को तोड़ने में समय लग रहा है, जिससे समय से ब्रिज निर्माण पूरा नहीं हो पाएगा। उन्होंने बताया कि ओवर ब्रिज की लंबाई 60 मीटर और चौड़ाई 12 मीटर है, जिसे पूरा करने के लिए पुराने ब्रिज को हटाने के बाद ही निर्माण पूरा हो पाएगा।

निर्माण पर आएगा 40 करोड़ खर्च

जगराओं पुल रेल ओवर ब्रिज निर्माण पर 40 करोड़ खर्च होंगे। रेल अधिकारी बताते हैं कि इस ब्रिज के निर्माण पर 60 प्रतिशत राज्य सरकार खर्च करेगी और 40 प्रतिशत रकम रेल विभाग खर्च करेगी। फिलहाल निर्माण के लिए 40 करोड़ का बजट बन चुका है, जिसमें 24 करोड़ राज्य सरकार दी है और 16 करोड़ रेलवे की ओर से जारी किया गया। उन्होंने बताया कि योजना पर वर्क आरंभ हो चुका है।

पहला चरण भी नहीं हुआ पूरा

ओवर ब्रिज निर्माण से जुडे़ एक्सईएन दयाराम का कहना है कि ब्रिज निर्माण चार चरणों में काम होगा। जब उनसे पूछा गया कि अभी काम का कौन सा चरण चल रहा है तो उन्होंने कहा कि अभी तो पहला चरण पुराने ब्रिज तोड़ने का काम पूरा नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि ब्रिज तुड़वाने की जिम्मेदारी एक अधिकारी की है, लेकिन वे अपनी जिम्मेदार पर खरे नहीं उतर रहे। वहीं रेलवे से संबंधित वर्क सीनियर इंजीनियर करवाएंगे। ब्रिज बनने के बाद सड़क निर्माण तीसरे चरण में होगा और चौथे चरण में ओवर ब्रिज का अंतिम चौथे चरण में काम पूरा होगा, लेकिन अभी ब्रिज निर्माण में काफी समय लगना है।

रेलवे से ट्रैक ब्लॉक मंजूर

ओवर ब्रिज निर्माण अधर में लटक गया है। दिसंबर तक यह निर्माण पूरा होना था अब लगता है कि अगले दिसंबर में यह योजना पूरी होगी। रेल अधिकारी बताते है कि निर्माण के दौरान रेल ट्रैक आने पर ट्रैक ब्लॉक लेना था जिसे रेलवे की मंजूरी मिल चुकी है। अब ब्रिज तोड़ने या निर्माण में कोई परेशानी नहीं है। अधिकारी यह भी बताते हैं कि ट्रेनों के आवागमन के मुताबिक ट्रैक ब्लॉक मिलेगा जिसके लिए समयसारिणी बनाई गई है।

निर्माण कर रही टीम से करेंगे बात

डीआरएम फिरोजपुर रेल मंडल के डीआरएम विवेक कुमार ने कहा कि ब्रिज निर्माण में देरी हो रही है। इसके लिए टीम से बात कर वर्क को तेज किया जाएगा।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY