पंजाब पुलिस ने अमृतसर ब्लास्ट मामले में जारी की संदिग्धों की तस्वीरें, राजधानी दिल्ली सहित कई राज्यों में हाई अलर्ट


कल अमृतसर शहर के गांव अदावली में स्थित निरंकारी भवन पर ग्रेनेड हमले ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। इस ब्लास्ट में 3 लोगों की मौत हो गई। इस घटना के बाद पंजाब सहित राजधानी दिल्ली, हरियाणा और एन.सी.आर. में हाई अलर्ट कर दिया गया है। वहीं पंजाब पुलिस ने संदिग्धों की तस्वीर जारी कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

खुफिया एजैंसियों ने जताया गोपाल सिंह चावला पर शक

खुफिया एजैंसियों निरंकारी भवन पर हुए ग्रेनेड हमले का शक गोपाल सिंह चावला पर जताया है, जिसे आतंकी हाफिज सईद के साथ देखा गया था। अप्रैल में जब भारतीयों का एक जत्था बैसाखी पर श्री पंजा साहिब गुरुद्वारा के दर्शन करने गया था तो गोपाल सिंह चावला ने कई तरह की अड़चनें पैदा की थीं । गुरुद्वारा के बाहर रैफरैंडम-2020 के पोस्टर भी चिपकाए थे। इसके बाद से ही पंजाब में गड़बड़ी फैलाने की साजिशें रची जा रही थीं।

Jaspreeet

लश्कर-ए-तोयबा रच रहा है सारी साजिश

पंजाब पुलिस व खुफिया एजैंसियों का मानना है कि यह खालिस्तानी व कश्मीरी आतंकी संगठनों की मिलीभगत से जन्मे नए टैरेरिस्ट ग्रुप का काम हो सकता है। खुफिया एजैंसियों ने पंजाब सरकार को अलर्ट भेजा है कि पंजाब में माहौल खराब करने के लिए पाकिस्तान बैठकर लश्कर-ए-तोयबा सारी साजिश रच रहा है। लश्कर कमांडर हाफिज सईद कश्मीरी व खालिस्तानी आतंकियों को टार्गेट देकर उनको फंडिंग भी मुहैया करवा रहा है।

खालिस्तान समर्थकों को सौंपा गया है पंजाब का माहौल खराब करने का जिम्मा

खास तौर पर पंजाब में गड़बड़ी के लिए जैश-ए-मोहम्मद व जमात-उल-दावा नामक आतंकी संगठन को खालिस्तानी संगठनों को पुनर्जीवित करने व छोटे-छोटे हमले कर पंजाब का माहौल खराब करने का जिम्मा सौंपा गया है। इतना ही नहीं सूत्रों की मानें तो आतंकी जाकिर मूसा के भी पिछले दिनों में कुछ खालिस्तानी समर्थकों से मिलने की खबर है। जाकिर मूसा को कुछ ही दिन पहले पंजाब में देखा गया था। इस बात की शंका जताई जा रही है कि जिन लोगों से जाकिर मूसा मिला है, वह स्लीपर सेल भी हो सकते हैं।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY