RBI ने दी चेतावनी – इस ऐप को भूलकर भी न करें डाउनलोड हो सकता है आपका स्मार्टफोन और बैंक खाता हैक


आज के समय में लोगों द्वारा ऑनलाइन बैंकिंग जैसी सुविधा का काफी इस्तेमाल किया जा रहा है पर क्या आप जानते है की जो ऐप आप इस्तेमाल कर रहें है वह सही है और आपकी निजी जानकारी चुरा नहीं रहा है पिछले कुछ समय में कई ऐसी खबरें सामने आई हैं जिनमें किसी के अकाउंट हैक होने या स्मार्टफोन हैक होने की घटनाएं शामिल थीं। अब एक नई खबर आई है जिसमें कहा जा रहा है कि अगर यूजर ने सोशल मीडिया या किसी और माध्य म से AnyDesk नाम की मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की कोशिश की तो उनका बैंक अकाउंट हैक हो सकता है जिसके बारे में RBI ने चेतावनी भी जारी की है।

RBI ने जारी की चेतावनी:

सबसे पहले आपको ये बता दें कि AnyDesk एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो यूजर के मोबाइल या लैपटॉप के जरिए बैंक अकाउंट से लेनदेन कर सकता है। RBI ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि अगर यूजर इस ऐप को डाउनलोड करते हैं तो उनका अपनी डिवाइस पर कोई कंट्रोल नहीं रहता है। हैकर्स दुनिया के किसी भी कोने से यूजर की डिवाइश को रिमोटली एक्सेस कर सकते हैं। साथ ही आपके बैंक अकाउंट से पैसा भी चुरा सकते हैं। RBI ने चेतावनी जारी कर लोगों को जगरुक करने की कोशिश की है।

इस तरह AnyDesk करता है काम

इस ऐप यानी AnyDesk को फोन में डाउनलोड करने के बाद यह ऐप यूजर के फोन पर 9 डिजिट का ऐप कोड जनरेट करता है। इसके बाद हैकर्स यूजर को बैंक की तरफ से फोन करते हैं और कोड मांगते हैं। अगर यूजर हैकर को कोड दे देता है तो हैकर्स यूजर का बैंक अकाउंट खाली कर देते हैं। यही नहीं, हैकर्स बिना यूजर को पता लगे उसके फोन की सभी जानकारी डाउफनलोड कर सकता है। इससे पहले भी एक खबर सामने आई थी जिसमें बताया गया था कि Currency Converter और Battery SaverMobi ऐप्स स्मार्टफोन के मूव होने पर उस फोन में Payload को फैला देती है। इसका नाम Anubis Trojan है।

स्मार्टफोन का मूव होना कैसे करता है मालवेयर की मदद

अगर मालवेयर यूजर के फोन में मोशन सेंसर इंफॉर्मेशन को लेने में कामयाब हो जाता है तो इसका सीधा मतलब यह है कि यह मालवेयर किसी व्यक्ति के फोन में ही इंस्टॉल हुआ है। वहीं, अगर फोन में कोई मोशन सेंसर नहीं है तो मालवेयर से प्रभावित ऐप को सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने पकड़ लिया है और इसे जांचा जा रहा है।

  • 122
    Shares

LEAVE A REPLY