41 विभिन्न व्यापारिक व औद्योगिक स्थानों पर की छापेमारी, 17 बाल मजदूरों को करवाया आजाद


लुधियाना – लुधियाना में बाल मजदूरी विरोधी छेडे गए अभियान के दुसरे दिन आज जिला टास्क फोर्स टीम में शामिल 8 विभिन्न सरकारी विभागों के अधिकारियों ने एन्टी ह्युमन ट्रैफकिंग पुलिस के जवानों के साथ संयुक्त आप्रेशन करते हुए शहर भर में 41 विभिन्न व्यापारिक व औद्योगिक स्थानों पर छापेमारी करते हुए 17 मासूमों को बाल मजदूरी की जंजीरों से आजादी दिलवाने में सफलता दर्ज करवाई है। जिलाधीश प्रदीप अग्रवाल के दिशा निर्दोशों पर टास्क फोर्स टीम को 2 हिस्सों में बांटा गया, जिसमें टीम ए. की अगुवाई लेबर विभाग के ए.डी.एफ सखविन्द्र सिंह भटटी व टीम बी. की कमान ए.डी.एफ गोरव पुरी को सौंपी गई थी। जबकि दोनों टीमों को अस्सिटैंट कमिश्नर शिकायतें मैडम कन्नु लीड की रही थी। इस मौके पर शिक्षा विभाग के हरमिन्द्र सिंह रोमी, हरप्रीत कौर लेबर इंस्पैक्टर, मनजिन्द्र कौर सी.डी.पी.ओ विभाग व बचपन बचाओ अंदोलन संस्था के वलंटियर मुख्य रूप में शामिल रहे।

विभागीय अधिकारियों ने बताया कि टीम बी. की अगुवाई कर रहे ए.डी.एफ गौरव पुरी की टीम ने सुंदर नगर के कुलदीप नगर में 3 फैक्टरियों सहित 12 अन्य स्थानों पर छापेमारी करते हुए 17 मासूमों को बाल मजदूरी की दलदल से बाहर निकालने में कामयाबी दर्ज करवाई हैं। छापेमारी दौरान छुडवाए गए सभी बच्चों की स्थानीय सिविल अस्पताल में डाक्टरी जांच करवाने के बाद अधिकारियों द्वारा चाइलड वैल्फेयर कमेटी के अधिकारियों को आगामी विभागीय कार्रवाई हेतु सौंप दिया गया हैं।वहीं टीम बी. की अगुवाई कर रहे ए.डी.एफ सुखविन्द्र सिंह भटटी की टीम ने पायल व राडा साहिब इलाके पडती करीब 26 दुकानों में छापेमारी की लेकिन इस दौरान उन्हें उक्त बाजारों की दुकानों में कोई बाल मजदूर नहीं मिल सका।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY