श्री बालाजी मंदिर में 816 वां हवन यज्ञ मंगलकामनाओं के साथ हुआ संम्पन, बड़ी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु


Religious Program held at Sri Bala ji Mandir in Ludhiana

लुधियाना – सिद्व पीठ महाबली संकटमोचन श्री हनुमान मंदिर के प्रांगण में 816 वां हवन यज्ञ ऋषि जैन,आशा जैन व् अमेरिका से मोहन लाल सेठी,शमां सेठी परिवार द्वारा करवाया गया जिसमें पूर्ण आहुतियां उनके परिवार से गुलशन कुमार,नरेश कुमार,दीक्षा,ज्योति परिवार की तरफ से डाली गई। प्रधान अशोक जैन की अध्यक्षता में मंदिर की आचार्यों पंडित विष्णु,पंडित विश्राम,पंडित संजय,पंडित राम,पंडित देवी दयाल,पंडित सुरेश आदि ने पूर्ण विधि विधान मंत्रोउच्चारण के साथ सम्पन्न कराया।प्रातः श्री बाला जी भगवान के परम् सेवक व् मुख्य सेवादार सप्मनाथ मड़कन के जन्म दिन पर भंडारे की सेवा मड़कन परिवार की तरफ से की गई। इस अवसर पर प्रधान अशोक जैन,ऋषि जैन,सोमनाथ मड़कन,अनुज मदान ने कहा कि हिन्दू सभ्यता में हवन या यज्ञ का बहुत महत्व होता है|

भारतीय संस्कृति में बनाये गए नियम ऐसे ही अर्थहीन नहीं होते, इनका वैज्ञानिक तर्क होता ही है।उन्होंने कहा कि हवन के दौरान उत्पन्न औषधीय धुआं हानिकारक जीवाणुओं को नष्ट कर वातावरण को शुद्ध करता है और साथ ही लकड़ी और औषधीय जडी़ बूटियां जिनको आम भाषा में हवन सामग्री कहा जाता है, इनको साथ मिलाकर जलाने से वातावरण मे जहां शुद्धता आ जाती है वहीं हानिकारक जीवाणु 94 प्रतिशत तक नष्ट हो जाते हैं. वही इस औषधीय धुएं का वातावरण पर असर 30 दिन तक बना रहता है और इस अवधि में जहरीले कीटाणु नहीं पनप पाते. मंदिर के नवनिर्माण कार्य में कार सेवा जारी है व् भक्तों द्वारा पुरे भाव से सेवा की जा रही है।इस अवसर पर भारती सोनी,मदनलाल मदान,सतीश डंग,नरिंदर कुमार नंदू,आदि उपस्थित हुए।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY