रेल गाड़ियों में चाय वाली केतलियों पर श्री दरबार साहिब की तस्वीर देख शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने जताया कड़ा एतराज


SGPC Show Protest against Golden Temple photo on Tea Kettle

भारतीय रेलवे द्वारा रेल गाडिय़ों में यात्रियों को दिए जाते पानी की बोतलों पर श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर के बाद अब चाय वाली केतलियों पर यह लेबल सामने आने पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा एक बार फिर सख्त एतराज प्रकट किया गया है।

इस मामले को लेकर शिरोमणि कमेटी ने इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म निगम लिमिटेड व बी.एस.एन.एल. के साथ संबंध कायम करके श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर वाले लेबल तुरंत हटाने के लिए कहा है। इस संबंधी दोनों विभागों को शिरोमणि कमेटी द्वारा पत्र भी लिखे गए हैं। शिरोमणि कमेटी के सचिव दिलजीत सिंह बेदी ने बताया कि बीते दिनों शताब्दी एक्सप्रैस में पानी की बोतलों पर श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर वाले लेबल का मामला सामने आया था, जिस पर शिरोमणि कमेटी की कार्रवाई के बाद रेलवे कैटरिंग और टूरिज्म निगम ने जवाबी पत्र द्वारा इसे अनजाने में हुई भूल बताकर तस्वीर वाले लेबल वापस लेने का दावा किया था।

लेकिन अब एक बार फिर यह लेबल चाय वाली केतलियों पर डाले जाने से सिखों में भारी रोष है। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि किसी को भी श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर छापने की इजाजत नहीं दी जा सकती। बेदी ने कहा कि रेलवे ने पानी और चाय की बोतलों पर इस पवित्र स्थान की तस्वीर छाप कर बड़ी गलती की है और उससे ज्यादा दुख की बात यह है कि विभाग द्वारा यह लिखित भरोसा दिए जाने के बाद भी इस पर मुकम्मल रोक नहीं लगाई गई।दूसरी तरफ बी.एस.एन.एल. के एक उच्च अधिकारी दीपक गर्ग ने भी शिरोमणि कमेटी के अधिकारियों को श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर छापने पर रोक की बात कही है और भविष्य में ऐसा न करने का भी भरोसा दिया है। बेदी ने कहा कि यह बेहद संजीदा मामला है और यदि संगत में रोष व गुस्से के कारण कोई घटना घटती है तो इसकी जिम्मेदारी रेलवे और बी.एस.एन.एल. विभाग की होगी।

  • 719
    Shares

LEAVE A REPLY