लुधियाना – सुनियोजित ढंग से रेत का अवैध कारोबार करने वाले रेत माफिया का भंडाफोड़


लुधियाना – सुनियोजित ढंग से रेत का अवैध कारोबार करने वाले रेत माफिया के नैटवर्क का भंडाफोड़ करते हुए सलेम टाबरी पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक आरोपी पुलिस को चकमा देकर भाग गया। यह माफिया पिछले एक सप्ताह से पुलिस को झूठी सूचना देकर गुमराह कर रहा था और खुद सतलुज से रेत चोरी करता रहा।

पकड़े गए सभी आरोपी गांव तलवंडी कलां के हैं, जिनमें राज कुमार उर्फ राजू, मेजर सिंह, गोबिंदा, मोनू, राम दास, काला है, जबकि जसबीर सिंह उर्फ बिल्ला फरार हो गया। इनके कब्जे से चोरी की रेत से भरे 3 टिप्पर, 2 ट्रालियां-ट्रैक्टर व एक छोटा हाथी वाहन बरामद किया है। इस संबंध में चोरी व माइनिंग एक्ट के तहत 2 केस रजिस्टर्ड किए गए हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले एक सप्ताह को पुलिस को लगातार सतलुज दरिया से रेत चोरी करने के फोन आ रहे थे। जब भी ए.एस.आई. जिंदर लाल अपनी टीम के साथ वहां पहुंचता तो वहां कुछ नहीं मिलता और टीम इधर-उधर भटकने के बाद वापस लौट आती।

हर बार ऐसा ही होने पर पुलिस का माथा ठनक गया। इस पर पुलिस ने अपने स्तर पर खोजबीन शुरू की और अपना मुखबिर तंत्र सक्रिय कर दिया। जिस पर पुलिस ने गांव तलवंडी कलां के निकट अलग-अलग जगह पर नाकाबंदी करके उक्त आरोपियों को काबू कर लिया, जब वह कासाबाद के निकट सतलुज दरिया से गैरकानूनी ढंग से रेत निकाल कर शहर की तरफ जा रहे थे। जांच के दौरान यह बात सामने आई कि पुलिस को झूठी सूचना देकर गुमराह करने वाले कोई और नहीं बल्कि यही आरोपी थे। रेत निकालने से पहले ये पुलिस को फोन पर झूठी सूचना देते थे कि कुछ लोग सतलुज से रेत चोरी करके ले जा रहे है। जब पुलिस वहां पहुंचती उसे कुछ नहीं मिलता। पुलिस के वापस लौटते ही यह आरोपी अपने वाहन लेकर वहां पहुंच जाते थे और बेफ्रिक होकर अपने गोरखधंधे में जुट जाते थे।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY