छात्र ने ट्यूशन पढ़ने से किया मना तो प्राइवेट स्कूल की प्रिंसिपल और उसके पति ने मां-बेटे से की मारपीट – जबरन लिखवाया माफीनामा


Child abuse

जस्सियां गांव के इलाके में स्थित एक प्राइवेट स्कूल की प्रिंसिपल और उसके पति ने सातवीं कक्षा के बच्चे व उसकी मां से मारपीट की। उनकी गलती सिर्फ यह थी कि बच्चे ने उनके पास ट्यूशन पढ़ने से मना कर दिया था। घायल बच्चे को इलाज के लिए सिविल अस्पताल में पहुंचाया गया। मामले की सूचना थाना सलेम टाबरी को दे दी गई है। पीड़ित बच्चे की मां ललिता ने आरोप लगाया कि उसका बेटा राजकुमार जस्सियां इलाके में स्थित प्राइवेट स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ता है। उसके चार और बच्चे भी उसी स्कूल में पढ़ते हैं। उसने बताया कि प्रिंसिपल व उसका पति उसके बच्चे को स्कूल में छु्टटी के बाद उनसे ही स्कूल में ट्यूशन पढ़ने का दबाव बना रहे थे।

करीब 3 महीने तो उसका बेटा राजकुमार मैडम के पास ट्यूशन पढ़ता रहा। पर कुछ दिनों से उनकी आर्थिक हालत ठीक न होने के कारण उसके बेटे ने प्रिंसिपल को ट्यूशन पढ़ने से मना कर दिया। ललिता ने बताया कि सोमवार की दोपहर करीब डेढ़ बजे वह अपने बच्चों को छुट्टी के बाद स्कूल लेने गई। जहां प्रिंसिपल व उसके पति ने उन्हें कहा कि वह राजकुमार को ट्यूशन पर दोबारा लगा दें। ललिता ने बताया कि उसने मना करते कहा कि वह अब अपने बच्चे को ट्यूशन नहीं पढ़ा सकते तो गुस्से में आई प्रिंसिपल ने उसके बच्चे को पीटना शुरू कर दिया। वह अपने बच्चे को छुड़वाने लगी तो प्रिंसिपल और उसके परिवार ने उसे भी धक्का मारकर गिरा दिया और उसे एक कमरे में बंद कर दिया।

प्रिंसिपल ने जबरन माफीनामा भी लिखवाया

ललिता ललिता ने यह भी आरोप लगाया है कि स्कूल की प्रिंसिपल ने मौके पर पुलिस बुलाकर उनसे जबरन माफीनामा भी लिखवाया। उनके डर के कारण उन्होंने उस खाली पेपर पर साइन भी किए जिसके बाद उन्हें स्कूल से जाने दिया गया।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY