पुलिस जांच में हुआ खुलासा – कॉन्ट्रैक्ट किलिंग का शिकार हुआ 22 वर्षीय रिंकल, जालंधर देहात से हायर किए थे 6 हत्यारे


Secrets Reveals in Police Investigation in Rinkal Murder case in Ludhiana

अमरपुरा इलाके में 22 वर्षीय भाजपा समर्थक रिंकल कॉन्ट्रैक्ट किलिंग का शिकार हुआ, जिसकी हत्या जालंधर देहात से हायर किए 6 युवकों से करवाई गई। कॉन्ट्रैक्ट किल्लरों में 2 केशधारी तथा 4 मौने हैं। सभी की आयु 25 से 30 वर्ष के मध्य है। पुलिस को उनकी पहचान हो चुकी है, जिनकी तलाश में कई टीमें लगातार छापामारी में जुटी हुई हैं लेकिन इस बात की किसी भी अधिकारी ने आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की है। वहीं दूसरी तरफ 48 घंटे बीतने पर भी कांग्रेसी पार्षद नीटू और उसके बेटे सन्नी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई। मृतक के परिजन दोनों की गिरफ्तारी के बाद ही पोस्टमार्टम और संस्कार करने की बात पर अड़े हुए थे। परिजनों को मनाने के लिए पुलिस अफसर भी उनके घर गए लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। सुबह से ही पीड़ितों के घर नेताओं का आना-जाना लगा रहा। वहीं अमरपुरा में आज भी स्थिति तनावपूर्ण बनी रही। पूरे इलाके में भारी पुलिस फोर्स तैनात रही।

सूत्रों के अनुसार वारदात में प्रयोग की गई कार के नंबर से पुलिस ने जांच को आगे बढ़ाया था, जिसमें सामने आया कि कार के असली मालिक से वह 4 जगह आगे बिक चुकी है। इस समय कार जालंधर देहात का रहने वाला एक युवक चला रहा है, जिस पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। जांच आगे बढ़ाने पर सामने आया कि वारदात से 1 दिन पहले कॉन्ट्रैक्ट किल्लरों ने अमरपुरा के आसपास के इलाके में आकर रुकना था। जब पुलिस ने इलाके के सभी होटलों की जांच की तो ब्राऊन रोड पर एक होटल में कॉन्ट्रैक्ट किल्लरों की फुटेज सामने आ गई, जिनमें से 2 का आपराधिक रिकार्ड है। पुलिस सूत्रों के अनुसार हत्यारे रात को आकर होटल में ठहरे और देर रात अमरपुरा में जाकर रिंकल के घर की रेकी की तथा सुबह वारदात को अंजाम दे दिया। उन्होंने वहां पास स्थित एक डाबे पर खाना भी खाया। पुलिस सूत्रों के अनुसार एक हेयर डै्रसर को हिरासत में लिया गया है जिसने होटल का कमरा बुक करवाया था।

हाथ-पांव तोडऩे का था कॉन्टै्रक्ट

पुलिस सूत्रों के अनुसार हत्यारों को रिंकल के हाथ-पांव तोडऩे का कॉन्ट्रैक्ट दिया गया था। इसी कारण उन्होंने रिंकल की दाई टांग पर इतने प्रहार किए कि वह 15 जगह से टूट गई, जबकि शरीर के अन्य हिस्सों की कई हड्डियां भी टूट गई हैं। सिर में तेजधार हथियार से वार किए जाने के कारण उसकी मौत हो गई।

कॉल डिटेल खोलेगी कांग्रेसी बाप-बेटे का राज

पुलिस सूत्रों के अनुसार हत्यारों और मामले में नामजद वार्ड नंबर 52 के पार्षद गुरदीप सिंह नीटू तथा उसके बेटे सन्नी के मोबाइल नंबरों की कॉल डिटेल निकलवाई जा रही है, जो कॉन्ट्रैक्ट किल्लरों और कांग्रेसी बाप-बेटे की आपस में जान-पहचान होने का राज खोलेगी कि वास्तव में उनका आपस में कोई ङ्क्षलक है या उन्हें राजनीतिक तौर पर बदनाम किया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार पुलिस के हाथ कई अहम सुराग लग चुके हैं, जिससे स्थिति स्पष्ट हो चुकी है कि कॉन्ट्रैक्ट किल्लरों को सुपारी किसने दी थी लेकिन पुलिस जल्दबाजी में कोई भी बयान नहीं देना चाहती। कांग्रेसी बाप-बेटे के कॉन्ट्रैक्ट किल्लरों से ङ्क्षलक संबंधी पुलिस ने फिलहाल चुप्पी साधी हुई है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY