सामने आई टीचर की शर्मनाक करतूत – टीचर ने छात्र पर थर्ड डिग्री अपनाते हुए झाड़ू तथा हाथों से बुरी तरह से पीटा


गुरु तथा चेले का रिश्ता पवित्र माना जाता है। यह रिश्ता आज उस वक्त तार-तार हो गया जब एक गुरु की तरफ से अपने ही चेले पर थर्ड डिग्री अपनाते हुए झाड़ू तथा हाथों से उसे पीटना शुरू कर दिया गया। आज सरकारी सीनियर सैकेंडरी स्कूल (लड़के) में उस वक्त हुआ जब टीचर सुखजिंद्र कौर ने कक्षा लेनी शुरू की तो कक्षा में पाठ के संबंध में पूछे सवाल का विद्यार्थी शरनप्रीत सिंह की तरफ से जवाब न देने पर टीचर ने उक्त विद्यार्थी को पीटना शुरू कर दिया तथा देखते ही देखते उक्त टीचर का गुस्सा इतना बढ़ गया कि उसने शरनप्रीत को झाड़ू से पीटना शुरू कर दिया, जिसके चलते शरनप्रीत के नाक से खून बहने लगा। शरनप्रीत ने इसकी शिकायत स्कूल प्रिंसिपल दविंद्र कलसी को की किंतु उन्होंने भी इस घटना को दिल से निकालते हुए बच्चे को धूप में बैठा दिया ताकि खून बहना बंद हो जाए।

वर्णनीय है कि उपरोक्त विद्यार्थी शरनप्रीत सिंह का करीब एक महीना पहले ही नाक का आप्रेशन हुआ था जिस बारे में प्रिंसिपल को पता होने के बावजूद भी उसने इसे गंभीरता से नहीं लिया तथा उसे धूप में बैठाना बेहतर समझा। अस बारे में प्रैस को पता चलने पर जब पत्रकारों की टीम स्कूल में पहुंची तो प्रिंसिपल दविंद्र कलसी ने उस समय वहां से भागना ही सही समझा, जबकि दूसरी तरफ बच्चे शरनप्रीत की हालत नाजुक देखते उसके अभिभावकों ने उसे सरकारी अस्पताल में दाखिल करवा दिया। पत्रकारों को दूसरे बच्चों ने उन्हें पर झाड़ू से हुए हमले संबंधी बताया।

इस बारे में स्कूल प्रिंसिपल दविंद्र कलसी से संपर्क करने पर उन्होंने माना कि स्कूल में ऐसा हुआ है और उक्त टीचर सुखजिंद्र कौर को इसका लिखित स्पष्टीकरण देने की हिदायत की है। डी.ओ. मोहन सिंह लेहल होशियारपुर से संपर्क किया तो उन्होंने इस बात से अनभिज्ञता प्रकट की। इस मामले में जब सुखजिंद्र कौर से संपर्क करना चाहा तो उनसे संपर्क नहीं हो सका। लेकिन से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सुखजिंद्र कौर पहले भी इस तरह मारने के लिए चर्चा में है तथा पहले भी कम्प्लेट पर बदली हो चुकी है जबकि दूसरी तरफ बच्चों के अभिभावकों ने मांग की है कि वह बच्चों को स्कूल में तब पढ़ाएंगे जब उक्त मैडम की बदली की जाए, नहीं तो वह अपने बच्चों को स्कूल से हटा लेंगे।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY