अमृतसर धमाके के पीछे खूंखार आतंकी जाकिर मूसा का हाथ, UAE से की गर्इ फंडिंग – सूत्र


अमृतसर में निरंकारी सत्संग के दौरान हुए बम विस्फोट में नया खुलासा सामने आया है। सूत्रों का कहना है कि इस धमाके में खूंखार आतंकी जाकिर मूसा का हाथ है। यह भी कहा जा रहा है कि इस विस्फोट की फंडिंग यू.ए.र्इ. से की गर्इ है। इस काम में आर्इ.एस.आर्इ. की मदद भी ली गर्इ है। सूत्रों ने आगे कहा कि खालिस्तानी गुटों ने भी इस फंडिंग में मदद की है।

अमृतसर में देखा गया जाकिर मूसा

खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक जाकिर मूसा अपने साथियों के साथ अमृतसर में देखा गया था। इसके बाद पंजाब की पुलिस ने शहर की सुरक्षा बढ़ाने का दावा किया था। शहर के गुरदासपुर और दीनानगर थाने के इलाके में आतंकी जाकिर मूसा के पोस्टर चिपकाए गए थे।

पुलिस ने जारी किए संदिग्ध युवकों के फोटो

पंजाब पुलिस ने इस हमले को लेकर संदिग्ध युवकों के फोटो जारी किए है। इस घटना की जांच के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी(एनआईए) की टीम रविवार देर रात अमृतसर पहुंच गई है। एनआईए टीम की अगुवाई मुकेश सिंह कर रहे हैं। पुलिस का दावा है कि बाइक पर सवार इन्हीं दोनों युवकों ने सत्संग भवन पर हमला किया है। वहीं इस मामले में निरंकारी भवन के प्रबंधक द्वारा पुलिस में एफ.आई.आर. दर्ज करा दी गई है।

संदिग्धों की सूचना देने वाले को 50 लाख देगी पंजाब सरकार

इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने कहा कि हम आतंकियों के मंसूबे को कामयाब नहीं होने देंगे। अपने मीडिया सलाहकार के हवाले से सिंह ने कहा है कि जो भी इस जघन्य घटना के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएगा उसे सरकार 50 लाख रुपए का इनाम देगी। उन्होंने कहा कि इस घटना को लेकर प्रदेश सरकार बेहद संवेदनशील है। मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार द्वारा जारी सूचना में यह भी कहा है कि आतंकी घटना में संलिप्त लोगों के बारे में बताने वालों का नाम गुप्त रखा जाएगा। इसके लिए एक मोबाइल नंबर भी दिया गया है, जिसके माध्यम से सूचना पंजाब पुलिस को पहुंचाई जा सकती है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY